ऑस्ट्रेलिया में तेजी से फैल रही है आग, आपातकाल घोषित किया गया

Bhasha  |   Updated On : November 11, 2019 10:25:48 AM
ऑस्ट्रेलिया में तेजी से फैल रही है आग, आपातकाल घोषित किया गया

ऑस्ट्रेलिया में तेजी से फैल रही है आग, आपातकाल घोषित किया गया (Photo Credit : फाइल फोटो )

कैनबरा:  

ऑस्ट्रेलिया के सबसे अधिक आबादी वाले राज्य में सोमवार को अग्नि आपातकाल घोषित कर दिया गया. ऑस्ट्रेलिया के पूर्वी तट पर जंगलों में लगी आग की चपेट में आने से तीन लोगों की मौत होने और 150 से अधिक घरों के जल के खाक होने के बाद यह घोषणा की गई. न्यू साउथ वेल्स राज्य के आपातकाल सेवा मंत्री डेविड इलियट ने कहा कि स्थानीय निवासी ऐसी स्थिति का सामना कर रहे हैं, जो अब तक की सबसे खतरनाक आग में तब्दील हो सकती है.

यह भी पढ़ें: अयोध्या पर आए SC के फैसले पर सलमान खान के पिता सलीम खान ने कहा- हमारे लिए मस्जिद नहीं..

न्यू साउथ वेल्स में तेज हवाओं के कारण आग फैली 

ऑस्ट्रेलिया के सर्वाधिक आबादी वाले राज्य न्यू साउथ वेल्स में तेज हवाओं के कारण आग फैल गई. न्यू साउथ वेल्स की नेता ग्‍लैडीस बेरेजिक्लयन ने सिडनी में कहा, ‘‘ विनाशकारी मौसम का मतलब है कि चीजें तेजी से बदल सकती है. सप्ताहभर के आपातकाल की घोषणा से ग्रामीण अग्निशमन सेवा को किसी भी सरकारी एजेंसी को किसी भी कार्य को करने या करने से रोकने का निर्देश देने का अधिकार मिल जाता है. 

रूसी रक्षा प्रणाली खरीदने पर तुर्की से बातचीत करेंगे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) इस सप्ताह तुर्की के नेता से मुलाकात करेंगे और रूस की रक्षा प्रणाली खरीदने के तुर्की के निर्णय पर उनसे दो टूक बातचीत करेंगे. ट्रंप के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट ओ ब्रायन ने रविवार को कहा कि रूसी रक्षा प्रणाली एस-400 खरीदने के तुर्की के फैसले से अमेरिका अब भी ‘बेहद खफा’ है. अमेरिका ने कहा कि यह रक्षा प्रणाली नाटो बलों के अनुकूल नहीं है और इससे एफ-35 लड़ाकू विमान कार्यक्रम प्रभावित हो सकता है साथ ही यह रूस के खुफिया विभाग को मदद पहुंचा सकता है.

यह भी पढ़ें: अगले साल चुनाव के लिए तैयार रहे महाराष्ट्र, बेमेल गठबंधन से होगी राजनीतिक अस्थिरता- संजय निरुपम

जुलाई में तुर्की को अमेरिका ने एफ-35 कार्यक्रम से बाहर कर दिया था

गौरतलब है कि अमेरिका ने जुलाई में तुर्की को एफ-35 कार्यक्रम से बाहर कर दिया था. ओ ब्रायन ने सीबीएस ‘फेस द नेशन’ में कहा, ‘‘अगर तुर्की रूस की रक्षा प्रणाली को नहीं छोड़ता तो उसे अमेरिकी प्रतिबंधों का सामना करना पड़ सकता है. ट्रंप का बुधवार को तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन के साथ और गुरुवार को नाटो महासचिव जेन्स स्टोल्टेनबर्ग के साथ मुलाकात का कार्यक्रम है.

First Published: Nov 11, 2019 10:25:48 AM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो