BREAKING NEWS
  • झारखंड विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly Elections 2019) में कुल 18 रैलियों को संबोधित करेंगें गृहमंत्री अमित शाह- Read More »
  • केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने खोया आपा, प्रदर्शनकारियों पर भड़के, कही ये बड़ी बात - Read More »
  • आयकर ट्रिब्यूनल ने गांधी परिवार को दिया झटका, यंग इंडिया को चैरिटेबल ट्रस्ट बनाने की अर्जी खारिज- Read More »

क्‍या आप जानते हैं अयोध्‍या का इतिहास, श्रीराम के दादा परदादा का नाम क्या था?

न्‍यूज स्‍टेट ब्‍यूरो  |   Updated On : November 07, 2019 05:58:52 PM
प्रतीकात्‍मक चित्र

प्रतीकात्‍मक चित्र (Photo Credit : फाइल )

नई दिल्‍ली:  

अयोध्या (Ayodhya) के रामजन्म भूमि विवाद (Ramjanm Bhoomi Vivad) पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) इस हफ्ते शनिवार तक फैसला सुना सकता है. चीफ जस्‍टिस जस्टिस रंजन गोगोई (CJI Ranjan Gogoi) का कार्यकाल 17 नवंबर के बाद रिटायर हो जाएंगे. उम्‍मीद है इससे पहले फैसला आ जाएगा. लेकिन अगले हफ्ते 11 12 16 (शनिवार) और 17 नवंबर (रविवार) को छुट्टी है.इसके बाद अदालत के पास 6 7 8 9 (शनिवार) 13 14 और 15 नवंबर का समय बचा है.फैसला चाहे जिसके पक्ष में आए पर क्‍या आप अयोध्‍या का इतिहास जानते हैं. क्‍या आपको पता है कि श्रीराम के परदादा का क्‍या नाम था.

  1. ब्रह्मा जी से मरीचि हुए
  2. मरीचि के पुत्र कश्यप हुए
  3. कश्यप के पुत्र विवस्वान थे
  4. विवस्वान के वैवस्वत मनु हुए.वैवस्वत मनु के समय जल प्रलय हुआ था
  5. वैवस्वतमनु के दस पुत्रों में से एक का नाम इक्ष्वाकु था इक्ष्वाकु ने अयोध्या को अपनी राजधानी बनाया और इस प्रकार इक्ष्वाकु कुलकी स्थापना की
  6. इक्ष्वाकु के पुत्र कुक्षि हुए
  7. कुक्षि के पुत्र का नाम विकुक्षि था
  8. विकुक्षि के पुत्र बाण हुए
  9. बाण के पुत्र अनरण्य हुए
  10. अनरण्य से पृथु हुए
  11. पृथु से त्रिशंकु का जन्म हुआ
  12. त्रिशंकु के पुत्र धुंधुमार हुए
  13. धुन्धुमार के पुत्र का नाम युवनाश्व था
  14. युवनाश्व के पुत्र मान्धाता हुए
  15. मान्धाता से सुसन्धि का जन्म हुआ
  16. सुसन्धि के दो पुत्र हुए- ध्रुवसन्धि एवं प्रसेनजित
  17. ध्रुवसन्धि के पुत्र भरत हुए
  18. भरत के पुत्र असित हुए
  19. असित के पुत्र सगर हुए
  20. सगर के पुत्र का नाम असमंज था
  21. असमंज के पुत्र अंशुमान हुए
  22. अंशुमान के पुत्र दिलीप हुए
  23.  दिलीप के पुत्र भगीरथ हुए भागीरथ ने ही गंगा को पृथ्वी पर उतारा था.भागीरथ के पुत्र ककुत्स्थ थे
  24. ककुत्स्थ के पुत्र रघु हुए रघु के अत्यंत तेजस्वी और पराक्रमी नरेश होने के कारण उनके बाद इस वंश का नाम रघुवंश हो गया तब से श्री राम के कुल को रघु कुल भी कहा जाता है
  25. रघु के पुत्र प्रवृद्ध हुए
  26. प्रवृद्ध के पुत्र शंखण थे
  27. शंखण के पुत्र सुदर्शन हुए
  28. सुदर्शन के पुत्र का नाम अग्निवर्ण था
  29. अग्निवर्ण के पुत्र शीघ्रग हुए
  30. शीघ्रग के पुत्र मरु हुए
  31. मरु के पुत्र प्रशुश्रुक थे
  32. प्रशुश्रुक के पुत्र अम्बरीष हुए
  33. अम्बरीष के पुत्र का नाम नहुष था
  34. नहुष के पुत्र ययाति हुए
  35. ययाति के पुत्र नाभाग हुए
  36. नाभाग के पुत्र का नाम अज था
  37. अज के पुत्र दशरथ हुए
  38. दशरथ के चार पुत्र राम भरत लक्ष्मण तथा शत्रुघ्न हुए

यह भी पढ़ेंः क्‍या आप जानते हैं भगवान श्रीराम के पुत्र लव-कुश के नाती-पोतों का नाम?

First Published: Nov 06, 2019 07:15:15 PM

RELATED TAG: Ram,

Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो