लखनऊ: स्कूल के टॉयलेट में छात्रा ने छात्र को चाकू गोदा, प्रिंसिपल को मिली जमानत

लखनऊ के ब्राइटलैंड स्कूल में पढ़ने वाले पहली कक्षा के छात्र रितिक को 7 वीं कक्षा की एक छात्रा ने शौचालय में बंधक बनाकर चाकू से हमला कर दिया।

  |   Updated On : January 18, 2018 06:39 PM
छात्रा के हमले में घायल छात्र से मिले योगी आदित्यनाथ (फोटो-ANI)

छात्रा के हमले में घायल छात्र से मिले योगी आदित्यनाथ (फोटो-ANI)

ख़ास बातें
  •  लखनऊ में छात्रा ने स्कूल के शौचालय में छात्र को बंधक बना गोंदा चाकू
  •  सीएम योगी आदित्यनाथ ने घायल छात्र से अस्पताल में मुलाकात की
  •  आरोपी नाबालिग छात्रा को बाराबंकी बाल सुधार गृह भेजा गया और स्कूल के प्रिंसिपल को ज़मानत मिली

नई दिल्ली:  

लखनऊ के ब्राइटलैंड स्कूल में पढ़ने वाले पहली कक्षा के छात्र रितिक को 7 वीं कक्षा की एक छात्रा ने शौचालय में बंधक बनाकर चाकू से हमला कर दिया।

घायल छात्र को स्कूल प्रशासन ने परिजनों को सूचना देने के बाद बुधवार को ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया। जहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को घायल छात्र से मुलाकात की और बच्चे के हालात जाने।

इस मामले में आरोपी छात्रा को जे एम प्रथम अचल प्रताप सिंह की कोर्ट में पेश किया गया। इसके बाद छात्रा को बाराबंकी बाल सुधार गृह भेज दिया गया है।

छात्रा के वकील शुक्रवार को जुविनाइल बोर्ड में एप्लीकेशन पेश करेंगे। स्कूल की प्रिंसिपल को ज़मानत मिल गई है।

लखनऊ के एसएसपी दीपक कुमार ने कहा, 'छात्र पर छात्रा के द्वारा सब्जी काटने वाले चाकू से हमला किया गया था। हमने छात्र के बॉडी पर से मिले बाल को डीएनए टेस्ट के लिए भेजा है। छात्रा को जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड के सामने पेश किया जाएगा। स्कूल प्रिंसिपल को गिरफ्तार कर लिया गया है।'

लखनऊ के डीएम ने न्यूज नेशन से खास बातचीत करते हुए कहा कि इस मामले में स्कूल की भारी लापरवाही है। उन्होंने घटना को छिपाया। FIR में स्कूल प्रशासन का नाम भी जोड़ा जाएगा।

उन्होंने कहा, 'गुरुग्राम हादसे के बाद ही सभी स्कूलों को बच्चों की सुरक्षा के उपाय करने को कहे गए थे अब हम और सख्ती करेंगे और जिस स्कूल में लापरवाही मिली। उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई भी करेंगे।'

वहीं स्कूली छात्रों के अभिभावकों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर नारेबाजी की। प्रदर्शकारियों का कहना है कि मामले को दबाने की कोशिश की गई।

और पढ़ें: शर्मसार हुआ हरियाणा- खट्टर राज में खतरे में बेटी, एक हफ्ते में 6 रेप

रितिक के पिता राजेश सिंह का कहना है कि स्कूल के अंदर इतनी जघन्य वारदात होने के बाद भी स्कूल प्रशासन ने पुलिस को घटना की सूचना नहीं दी और उन्हें भी पुलिस को सूचना देने से मना किया। लेकिन जब दबाव बढ़ा तो स्कूल प्रशासन ने बुधवार को घटना के बारे में पुलिस को सूचना दी।

बताया जा रहा है कि छात्रा ने स्कूल में छुट्टी को लेकर छात्र पर हमला किया।

छात्रा ने कैसे दिया वारदात को अंजाम

छात्रा के हमले में घायल छात्र रितिक के पिता अलीगंज थाना क्षेत्र के त्रिवेणीनगर निवासी राजेश सिंह हाईकोर्ट में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी हैं। रितिक त्रिवेणीनगर-3 स्थित ब्राइटलैंड इंटर कॉलेज में कक्षा एक का छात्र है।

मंगलवार को रितिक को उसी स्कूल की छात्रा ने शौचालय में बन्द कर दिया और उसके हाथ पैर बांध दिए। इसके बाद उसे चाकू मारकर लहूलुहान कर दिया। एसपी हरेंद्र कुमार ने कहा, 'पुलिस ने गंभीरता से मामले की जांच करने का निर्णय लिया है।'

और पढ़ें: उत्तराखंड में बीजेपी ने चंदा जुटाने के लिए तय किया 'टारगेट'

उन्होंने बताया कि पुलिस को दिए गए अपने बयान में रितिक ने जूनियर सेक्शन की एक छात्रा पर आरोप लगाया है। उसने कहा कि छात्रा ही उसे शौचालय ले गई और दुपट्टे से दोनों हाथ बांधकर चाकू से उस पर कई वार किए।

छात्र जब चीखने लगा तो उसके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया और लहूलुहान हालत में ही उसे शौचालय में बंद करके भाग गई। छात्र ने दरवाजा खटखटाया तो स्कूल के डिसिप्लिन इंचार्ज अमित सिंह आए।

दरवाजा खोलने पर नजारा देखकर वह चीख पड़े। उन्होंने स्कूल के प्रशासन को इसकी खबर दी और घायल छात्र को देवकी अस्पताल ले गए जहां उसकी गंभीर हालत को देखते हुए उसे ट्रॉमा सेंटर भेज दिया गया।

और पढ़ें: 'पद्मावत' पर सुप्रीम आदेश, अब कोई और राज्य नहीं लगा सकता बैन

First Published: Thursday, January 18, 2018 01:47 PM

RELATED TAG: Yogi Adityanath, Brightland School, Lucknow, Police, Ryan International School,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो