बंगाल क्रिकेट टीम के कप्तान अभिमन्यु ईश्वरन के घर पर करोड़ों की लूट

सुरेंद्र डसीला  |   Updated On : September 23, 2019 11:05:15 AM
अभिमन्यु ईश्वरन (फाइल फोटो)

अभिमन्यु ईश्वरन (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

देहरादून:  

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में बदमाशों के हौसले इतने बुलंद हो चुके हैं, मानो ये देवभूमि नहीं बल्कि अपराध भूमि हो. शहर के सबसे पॉश एरिया मसूरी रोड पर बंगाल क्रिकेट टीम के कप्तान अभिमन्यु ईश्वरन के घर में शाम के 8 बजे के करीब बदमाशों ने गन पॉइंट पर करोडों रुपये की लूट को अंजाम दे डाला. घर पर अभिमन्यु के पिता ईश्वरन के अलावा उनकी पत्नी और  19 वर्षों से काम कर रहे नौकर आनंद व एक अन्य नौकर भी मौजूद थे.

यह भी पढ़ेंः आधी रात पब, बार और क्लबों पर पड़ा छापा, देहरादून पुलिस ने जुर्माना भी ठोंका

राजधानी देहरादून में इस कदर बदमाशों के हौसले बुलंद है जैसे उनको किसी का भी डर नहीं.  पुलिस की नाक के नीचे मसूरी रोड जैसे पॉश इलाके में बदमाशों ने बंदूक की नोक पर लूट की घटना को अंजाम दे डाला और घर से नकदी, जेवरात व विदेशी करेंसी लेकर फरार हो गए. जैसे ही इसकी सूचना मिली पुलिस के होश उड़ गए. आनन फानन में मौके पर पहुंची पुलिस ने वारदात के बारे में जानकारी ली.

बता दें कि इस बार राजपुर रोड स्तिथ मैक्स अस्पताल के पास बदमाशों ने जाने माने क्रिकेटर अभिमन्यु के घर को निशाना बनाया और पिस्टल, तमंचे व चाकू की नोक पर करोड़ों की लूट को अंजाम दिया. घटना के समय पीड़ित  ईश्वरन उनकी  पत्नी व दो नौकर घर में मौजूद थे. वारदात को अंजाम देने के टाइम पर पहले बेखौफ बदमाशों ने सबको बंधक बनाया व अभिमन्यु के पिता ईश्वरन की काफी पिटाई भी की और बड़े ही इत्मीनान से करोड़ों का माल उड़ा ले गए. इस दौरान वो खिलाड़ी अभिमन्यु और ईश्वरन की हत्या की सुपारी का भी जिक्र करते रहे और इस बार छोड़कर अगली बार मार देंगे ये कहकर बेखौफ तरीके से लूट का माल लेकर निकल गए.

यह भी पढ़ेंः देहरादून जहरीली शराब कांड में कोतवाल, चौकी इंचार्ज निलंबित

ईश्वरन की मानें तो बदमाश बेखौफ थे, इससे पहले उन्होंने इस तरह के बदमाशों का दबंग रूप फिल्मों तक में नहीं देखा. ईश्वरन को देहरादून शहर का बड़ा नाम माना जाता है. वो अभिमन्यु क्रिकेट अकादमी चलाते हैं. जिसमें भारतीय क्रिकेट के कई सितारे उनके अकादमी में न केवल ट्रेनिंग देने आते हैं, बल्कि खेलते भी हैं. अभिमन्यु क्रिकेट अकादमी से अभी तक 86 ऐसे खिलाड़ी हैं जो अलग अलग टीमों में खेल रहे हैं. खुद उनके बेटे अभिमन्यु बंगाल टीम के कप्तान हैं और इंडिया A टीम के लिए भी क्रिकेट खेलते हैं.

घटना स्थल से पुलिस चेक पोस्ट महज 100 मीटर दूरी पर है  और ऐसे में बदमाशों ने परिवार को तकरीबन 1.30 घंटे तक बंधक बना कर रखा. इससे अंदाजा लगाना मुश्किल नहीं कि चालान काटने में व्यस्त मित्र पुलिस अपराध रोकने में कितनी मुस्तैदी दिखा रही है. जहां बदमाश फुलप्रूफ प्लानिंग करके इतनी बड़ी घटना को अंजाम दे देते हैं और पुलिस लकीर पीटने के अलावा असहज अपने आपको पाती है. पुलिस की नाक के नीचे हुई इस लूट के बाद पुलिसकर्मियों के जैसे पैरों तले जमीन खिसक गई होगी. देहरादून शहर के एसएसपी, एसपी सिटी, सीओ मसुरी घटनास्थल पर मौजूद हैं और बस अब अपराधियों को जल्द से जल्द सलाखों के पीछे डालने की बात कर रहे हैं.

यह भी पढ़ेंः 2 से ज्यादा बच्चे वाले नहीं लड़ सकें चुनाव, जानें क्‍या करने वाली है उत्‍तराखंड सरकार

राजधानी में यह कोई पहला मामला नहीं है, जहां बदमाशों ने मित्र पुलिस की किरकिरी कर इतनी बड़ी लूट की घटना को अंजाम दिया हो. इससे पहले भी राजधानी के वीआईपी इलाके में आई.आई.एफ.एल गोल्ड लोन कंपनी में लूट की घटना की घटना को बदमाशों ने अंजाम दिया था. जिसका खुलासा मित्र पुलिस अब तक नहीं कर पाई है. उसी वीआईपी इलाके में एक बार फिर बदमाशों ने एक बड़ी घटना को अंजाम दे दिया ,है जो कानून व्यवस्था पर बड़े सवाल खड़े करता है.

First Published: Sep 23, 2019 11:05:15 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो