BREAKING NEWS
  • कमलेश तिवारी हत्याकांड: गुजरात ATS को मिली बड़ी कामयाबी, मुख्य आरोपी अशफाक और मुईनुद्दीन गिरफ्तार- Read More »

Uttar Pradesh: खनन घोटाले में बढ़ सकती हैं 6 IAS अफसरों की मुश्किलें, पढ़िए पूरी खबर

Dalchand  | Reported By : हरेंद्र चौधरी |   Updated On : July 12, 2019 10:25:05 AM
फाइल फोटो

फाइल फोटो (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

उत्तर प्रदेश में खनन घोटाले में आधा दर्जन आईएएस अधिकारियों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. 6 जिलों के तत्कालीन डीएम खनन के अवैध पट्टे देने के आरोप में कार्रवाई की जद में आए हैं. हमीरपुर, फतेहपुर और देवारिया जिलों के तत्कालीन डीएम पर सीबीआई केस दर्ज कर चुकी है. अब 2013 में शामली, कौशांबी और सिद्धार्थनगर जिलों में डीएम रहे अधिकारी भी सीबीआई की रडार पर हैं. खनन घोटाले में सीबीआई में नई एफआईआर दर्ज कर सकती है. यूपी के अलग-अलग जिलों में छापेमारी के दौरान सीबीआई को अहम सबूत मिले हैं.

यह भी पढ़ें- सड़क सुरक्षा पर सीएम योगी सख्त, बोले- हादसों की जिम्मेदारी से नहीं बच सकते अधिकारी

खनन घोटाले में सीबीआई की छापेमारी के बाद प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) भी फिर से सक्रिय हुई है. खनन घोटाले में सीबीआई की दो नई एफआईआर के बाद ईडी कार्रवाई कर सकती है. दोनों नई एफआईआर के आधार पर ईडी की लखनऊ यूनिट मनी लांड्रिंग का केस दर्ज कर सकती है.

यह भी पढ़ें- भ्रष्टाचार को लेकर प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर साधा निशाना, कही ये बात

आईएएस अफसर अभय सिंह और विवेक के अलावा सीनियर पीसीएस अधिकारी देवीशरण उपाध्याय के खिलाफ मनी लांड्रिंग का केस दर्ज हो सकता है. सीबीआई ने छापेमारी के दौरान आईएएस अफसर अभय सिंह के आवास से 49 लाख रुपये बरामद किए थे. 10 लाख रुपये देवीशरण उपाध्याय के पास से बरामद हुए थे. आईएएस अफसर विवेक के पास से भी अहम दस्तावेज बरामद हुए. खनन घोटाले में प्रवर्तन निदेशालय आईएएस अफसर बी. चंद्रकला के खिलाफ पहले ही मनी लांड्रिंग का केस दर्ज कर चुका है.

यह वीडियो देखें- 

First Published: Jul 12, 2019 10:25:05 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो