BREAKING NEWS
  • VIDEO: बाल-बाल बचा ऑस्ट्रेलिया का ये तेज गेंदबाज, नहीं तो बैट्समैन के शॉट से उड़ जाते चेहरे के चीथड़े- Read More »
  • IND VS BAN : एक ही मैच में चार विश्‍व रिकार्ड तोड़ने की तैयारी में मयंक अग्रवाल- Read More »

योगी जी! कैसे सुधरेगी कानून व्यवस्था जब, पुलिसकर्मी ही काफी नहीं है

News State Bureau  |   Updated On : July 08, 2019 11:48:12 AM
प्रतीकात्मक फोटो।

प्रतीकात्मक फोटो। (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  देशभर में 5.43 लाख पुलिस कर्मियों की कमी है
  •  यूपी में ही 1.29 लाख पद खाली हैं
  •  नागालैंड इकलौता राज्य है जहां पुलिसकर्मियों की संख्या ज्यादा

नई दिल्ली:  

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पुलिस पर भले ही कानून व्यवस्था को बनाए रखने का दबाव बनाती रहे. लेकिन सच्चाई तो ये है कि जितनी संख्या पुलिस कर्मियों की है वो काफी नहीं है. यूपी ही नहीं पूरे देश में पुलिसकर्मियों की कमी एक बड़ा मुद्दा है. लेकिन कोई राजनीतिक दल इसे चुनाव में शामिल नहीं करता.

यह भी पढ़ें- UP की इन 10 जगहों को घूम लिया तो विदेश जाने का मन नहीं करेगा

देशभर में आंकड़ों की बात करें तो 1 जनवरी 2018 तक देश में 5.43 लाख पुलिसकर्मियों के पद खाली थे. सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश में 1.29 लाख पद खाली थे. देश में नागालैंड इकलौता ऐसा राज्य है जहां पुलिसकर्मियों की संख्या जरूरत से ज्यादा है. ब्यूरो ऑफ पुलिस रिसर्च एंड डेवलपमेंट (BPRD) के आंकड़ों के मुताबिक पूरे देश में 24, 84,170 पुलिसकर्मियों की जरूरत है. जिसमें से 1 जनवरी 2018 तक 19,41,473 पद ही भरे हुए थे.

यह भी पढ़ें- मुजफ्फरनगर में सरकारी बैठकों में परोसा गुड़, ये है कारण

1 जनवरी 2017 को देश भर में पुलिसकर्मियों के कुल 5.38 लाख पद खाली थे. साल 2018 में यह संख्या बढ़कर 5.43 लाख हो गई. देशभर में 2016 में 22 लाख 80 हजार 691, 2017 में 24,64,484 और 2018 में 24,84,170 पुलिसकर्मियों की आवश्यक्ता थी.

ज्यादातर राज्यों में पुलिसकर्मियों की कमी

BPRD की पुलिस संस्था से संबंधित रिपोर्ट के मुताबिक 1 जनवरी 2018 तक पुलिस कर्मियों की सबसे भारी कमी उत्तर प्रदेश में है. फिर बिहार में जहां 50,291, पुलिसकर्मियों की कमी है. पश्चिम बंगाल में 48,981, तेलंगाना में 30,345 और महाराष्ट्र में 26,196 पद खाली थे.

देश की राजधानी दिल्ली भी पुलिस कर्मियों की भारी कमी है. यहां 11,819 पद खाली हैं. दिल्ली में पुलिस कर्मियों की मानक संख्या आंध्र प्रदेश, हरियाणा, झारखंड, केरल, ओडिशा और तेंलगाना से कहीं ज्यादा है. उत्तर प्रदेश में पुलिस कर्मियों की मानक संख्या 4,14,492 है जबकि 1 जनवरी 2018 तक 2,85,540 पुलिसकर्मी ही सेवा में थे.

यह भी पढ़ें- मुस्लिम अफसर को सताने लगा मॉब लिंचिंग का डर, बदलना चाहते हैं अपना नाम

बिहार में 1 लाख 28 हजार 286 पुलिसकर्मियों की आवश्क्ता है जबकि 1 जनवरी 2018 तक सिर्फ 77,995 पुलिसकर्मी ही सेवा में थे. नागालैंड में मानक से 941 पुलिसकर्मी ज्यादा हैं. धान का कटोरा कहा जाने वाले छत्तीसगढ़ में 11,916 पद, ओडिशा में 10,322 पद और J&K में 10,044 पद खाली हैं.

First Published: Jul 08, 2019 11:46:42 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो