BREAKING NEWS
  • Shaeen Bagh Protest: सुप्रीम कोर्ट का पैनल बुधवार को प्रदर्शनकारियों से करेगा मुलाकात- Read More »

UP में शिक्षा विभाग में फर्जीवाड़ा आया सामने, 73 शिक्षकों की सेवा समाप्त

News State Bureau  |   Updated On : January 29, 2020 01:47:36 PM
प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो (Photo Credit : फाइल फोटो। )

लखनऊ:  

शासन स्तर पर SIT से कराई गई जांच में हाथरस में शिक्षा विभाग में फर्जीवाड़ा सामने आया है. डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय से साल 2004 में फर्जी तरीके से बीएड की डिग्री हासिल कर शिक्षा विभाग में नौकरी कर रहे 73 शिक्षकों की हाथरस BSA ने सेवा समाप्त करते हुए जिले के थाना कोतवाली हाथरस गेट में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया है.

यह भी पढ़ें- CAA को लेकर मुस्लिमों को उन्हीं समाज के लोग गुमराह कर रहे हैं : मोहन भागवत

आपको बता दें कि डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय से साल 2004 में फर्जी तरीके से बीएड की डिग्री पर शिक्षा विभाग में नौकरी हासिल करने वाले शिक्षकों की जांच शासन स्तर से शुरू हुई तो धीरे-धीरे फर्जी प्रमाणपत्रों के सहारे नौकरी पाने का मामला सामने आना शुरू हो गया. जिसके बाद शासन द्वारा इसकी जांच SIT को सौंप दी गई.

यह भी पढ़ें- उन्नाव में लापता किशोरी का शव खेत में मिला, रेप के बाद हत्या की आशंका

जांच के बाद एसआईटी ने हाथरस के बीएसए को 73 टेंपर्ड व फर्जी शिक्षकों की सीडी बनाकर दे दी है. सीडी मिलने के बाद हाथरस बीएसए ने फर्जी शैक्षिक प्रमाण पत्रों पर नौकरी करने वाले सभी 73 शिक्षकों की सेवा समाप्त कर दी है. जिले के थाना कोतवाली हाथरस गेट में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया गया है. पुलिस अब इस मामले में जुट गई है.

First Published: Jan 29, 2020 01:47:36 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो