BREAKING NEWS
  • नेहरू-गांधी परिवार पर भरोसा है, इसलिए सोनिया अंतरिम अध्यक्ष बनाई गईं, विरोधियों को भूपेश बघेल का जवाब- Read More »
  • टीम इंडिया के सपोर्ट स्टाफ चुनने की प्रक्रिया शुरू, गुरुवार तक हो सकता है सभी नामों का ऐलान- Read More »
  • कुत्तों का Space Mission, अंतरिक्ष पहुंच Hero बन गए ये जानवर- Read More »

रामपुर में जौहर यूनिवर्सिटी का पैसा कहां से आया, प्रवर्तन निदेशालय करेगा जांच

News State Bureau  |   Updated On : July 25, 2019 12:31 PM
आजम खान (फाइल फोटो)

आजम खान (फाइल फोटो)

ख़ास बातें

  •  यूनिवर्सिटी के लिए पैसा कहां से आया इसकी जांच होगी
  •  सीडीओ की अध्यक्षता में एक टीम बनाई गई है
  •  अब ईडी भी इसकी जांच करेगी

लखनऊ:  

समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खां की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं. मुहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी के लिए पैसा कहां से आया इसकी जांच भी अब होगी. ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) ने डीएम से इस बारे में जानकारी तलब की है. यूनिवर्सिटी को बनाने में सराकारी पैसे का इस्तेमाल और जमीनों पर कब्जे संबंधी जांच पहले से ही एसआईटी कर रही है.

यह भी पढ़ें- आजम खान की मुश्किलें नहीं हो रहीं कम, कस सकता है ईडी का शिकंजा

जौहर यूनिवर्सिटी सांसद आजम खां के ड्रीम प्रोजेक्ट में से एक है. लेकिन अब इस पर शासन और प्रशासन का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है. शिकायतें मिलने पर शासन ने पहले SIT की जांच शुरु कराई है जो अभी भी जारी है. जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने सीडीओ की अध्यक्षता में एक टीम बनाई है.

यह भी पढ़ें- योगी सरकार ने पेश किया 13.5 हजार करोड़ का अनुपूरक बजट, इन योजनाओं को मिलेगी रफ्तार

आजम खां के खिलाफ जमीन के मामले में कुल 27 मुकदमें अजीमनगर में दर्ज हैं. जबकि राजस्प परिषद में 14 मुकदमें बिना अनुमति के अनुसूचित जाति के लोगों की जमीन खरीदने के आरोप में चल रहा है. प्रवर्तन निदेशालय ने भी सपा सरकार में पूर्व मंत्री और रामपुर से सांसद मोहम्मद आजम खां के खिलाफ FIR का ब्योरा मांगा है.

यह भी पढ़ें- पूर्व CM अखिलेश यादव से वापस ली जाएगी Z+ सुरक्षा, मुलायम की रहेगी बरकरार , ये है कारण 

ईडी ने रामपुर में पुलिस से जमीनों पर अवैध कब्जों से लेकर अन्य सभी मामलों में मुकदमों की प्रतियां मांगी हैं. जिलाधिकारी का कहना है कि यूनिवर्सिटी बनाने के लिए पैसा कहां से आया इसकी जांच ईडी कर सकती है. ईडी का पत्र मिला है जिसमें विवि के बारे में जानकारी मांगी गई है.

यह भी पढ़ें- संसद में अखिलेश की हुई फजीहत, रविकिशन को यश भारती सम्मान देने का दावा निकला झूठा 

जमीन कब्जाने के आरोपों में फंसे आजम खां ने मुकदमों को लेकर ट्वीट करते हुए कहा है कि इतने आरोप तो वीरप्पन और दुआ पर भी नहीं है. मुझे पुलिस एनकाउंटर में मरवा क्यों नहीं देती. युनिवर्सिटी गेट का फोटो लगाकर आजम ने लिखा है कि ये मेरे बड़े गुनाह की एक छोटी सी तस्वीर.

First Published: Wednesday, July 24, 2019 08:31 AM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Ed, Enforcement Directorate, Enforcement Directorate News, Azam Khan, Jauhar University,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

न्यूज़ फीचर

वीडियो