BREAKING NEWS
  • पीएमसी बैंक घोटाला और अर्थव्‍यवस्‍था की खराब हालत को लेकर कपिल सिब्‍बल ने मोदी सरकार को घेरा- Read More »
  • सिक्‍सर किंग युवराज सिंह का छलका दर्द, बोले- योयो के वक्‍त दादा काश आप बीसीसीआई के बॉस होते- Read More »
  • मिठाई का एक डिब्बा ही बन गया अहम सुराग, कमलेश तिवारी के कातिलों तक ऐसे पहुंची पुलिस- Read More »

रामपुर में जौहर यूनिवर्सिटी का पैसा कहां से आया, प्रवर्तन निदेशालय करेगा जांच

News State Bureau  |   Updated On : July 25, 2019 12:31:48 PM
आजम खान (फाइल फोटो)

आजम खान (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  यूनिवर्सिटी के लिए पैसा कहां से आया इसकी जांच होगी
  •  सीडीओ की अध्यक्षता में एक टीम बनाई गई है
  •  अब ईडी भी इसकी जांच करेगी

लखनऊ:  

समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खां की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं. मुहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी के लिए पैसा कहां से आया इसकी जांच भी अब होगी. ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) ने डीएम से इस बारे में जानकारी तलब की है. यूनिवर्सिटी को बनाने में सराकारी पैसे का इस्तेमाल और जमीनों पर कब्जे संबंधी जांच पहले से ही एसआईटी कर रही है.

यह भी पढ़ें- आजम खान की मुश्किलें नहीं हो रहीं कम, कस सकता है ईडी का शिकंजा

जौहर यूनिवर्सिटी सांसद आजम खां के ड्रीम प्रोजेक्ट में से एक है. लेकिन अब इस पर शासन और प्रशासन का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है. शिकायतें मिलने पर शासन ने पहले SIT की जांच शुरु कराई है जो अभी भी जारी है. जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने सीडीओ की अध्यक्षता में एक टीम बनाई है.

यह भी पढ़ें- योगी सरकार ने पेश किया 13.5 हजार करोड़ का अनुपूरक बजट, इन योजनाओं को मिलेगी रफ्तार

आजम खां के खिलाफ जमीन के मामले में कुल 27 मुकदमें अजीमनगर में दर्ज हैं. जबकि राजस्प परिषद में 14 मुकदमें बिना अनुमति के अनुसूचित जाति के लोगों की जमीन खरीदने के आरोप में चल रहा है. प्रवर्तन निदेशालय ने भी सपा सरकार में पूर्व मंत्री और रामपुर से सांसद मोहम्मद आजम खां के खिलाफ FIR का ब्योरा मांगा है.

यह भी पढ़ें- पूर्व CM अखिलेश यादव से वापस ली जाएगी Z+ सुरक्षा, मुलायम की रहेगी बरकरार , ये है कारण 

ईडी ने रामपुर में पुलिस से जमीनों पर अवैध कब्जों से लेकर अन्य सभी मामलों में मुकदमों की प्रतियां मांगी हैं. जिलाधिकारी का कहना है कि यूनिवर्सिटी बनाने के लिए पैसा कहां से आया इसकी जांच ईडी कर सकती है. ईडी का पत्र मिला है जिसमें विवि के बारे में जानकारी मांगी गई है.

यह भी पढ़ें- संसद में अखिलेश की हुई फजीहत, रविकिशन को यश भारती सम्मान देने का दावा निकला झूठा 

जमीन कब्जाने के आरोपों में फंसे आजम खां ने मुकदमों को लेकर ट्वीट करते हुए कहा है कि इतने आरोप तो वीरप्पन और दुआ पर भी नहीं है. मुझे पुलिस एनकाउंटर में मरवा क्यों नहीं देती. युनिवर्सिटी गेट का फोटो लगाकर आजम ने लिखा है कि ये मेरे बड़े गुनाह की एक छोटी सी तस्वीर.

First Published: Jul 24, 2019 08:31:48 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो