जन्मदिन के मौके पर मायावती का निशाना, कहा- 'कांग्रेस और बीजेपी एक ही थाली के चट्टे-बट्टे'

News State Bureau  |   Updated On : January 15, 2020 10:09:28 AM
मायावती।

मायावती। (Photo Credit : फाइल फोटो )

लखनऊ:  

बीएसपी सुप्रीमो मायावती (BSP Supremo Mayawati) आज अपना 64वां जन्मदिन मना रही हैं. इस मौके पर बसपा सुप्रीमो ने प्रेस कान्फ्रेंस करके बसपा कार्यकर्ताओं को धन्यवाद दिया. इस मौके पर उन्होंने कांशीराम, डॉ. भीमराव अंबेडकर, ज्योतिराव फुले और सावित्री बाई फुले के यादा करते हुए कहा कि बसपा हमेशा इन महापुरुषों के दिखाए रास्ते पर चलती आई है. आज मेरा जन्मदिन है और बीएसपी के कार्यकर्ता पूरे देश में अपने-अपने स्तर पर जन्मदिन मना रहे हैं. इस मौके पर उन्होंने अपने द्वारा लिखी किताब 'ब्लू बुक-मेरे संघर्षमय जीवन एवं बसपा मूवमेंट का सफरनामा भाग- 15' का विमोचन किया साथ ही कांग्रेस और बीजेपी पर निशाना साधा.

मायावती ने सभी कार्यकर्ताओं को नव वर्ष की बधाई दी. उन्होंने कहा कि उनका जन्मदिन हर साल जन कल्याणकारी दिवस के रूप में मनाया जाता है. इस मौके पर बीएसपी कार्यकर्ता सभी लोगों के बीच जाकर अपने-अपने स्तर से कांशीराम, डॉ. भीमराव अंबेडकर, ज्योतिराव फुले और सावित्री बाई फुले की विचारधाना को फैलाते हैं.

यह भी पढ़ें- Commissioner System लागू होने पर मायावती ने कही ये बात, पूर्व DGP ने किया फैसले का स्वागत

इस मौके पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि कांग्रेस और बीजेपी एक ही थाली के चट्टे बट्टे हैं. बीजेपी सरकार ने जो वादे किए थे उनमें से एक भी नहीं निभाया है. साथ ही देश में सिर्फ अशांति ही फैलाई है. उन्होंने बीजेपी को नसीहत देते हुए कहा कि जनहित के लिए बीजेपी को विकास के रास्ते पर आना चाहिए. क्योंकि नोटबंदी, जीएसटी, असम में फिर से एनआरसी और सीएए ने देश को बर्बाद करने का काम किया है.

यहां उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार में भी दिक्कतें थी. लेकिन बीजेपी की सरकार में यह दिक्कतें और बढ़ गई हैं. लगातार बेरोजगारी बढ़ती जा रही है. देश में युवा और गरीब परेशान हैं. बीजेपी की सरकार में लगातार उन्हीं लोगों को लाभ दिया जाता है जो सरकार के करीबी हैं.

यह भी पढ़ें- मायावती ने रितेश पांडे को बनाया लोकसभा नेता, मलूक नागर होंगे उपनेता 

योगी सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था बहुत खराब है. प्रदेश में जंगलराज चल रही है. महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं. अगर उत्तर प्रदेश में ईमानदारी से FIR दर्ज होना शुरु हो जाए तो उत्तर प्रदेश अपराध में पहले नंबर पर पहुंच जाएगा. जबकि बीएसपी की सरकार में कार्यकर्ताओं और मंत्रियों को भी अपराध करने पर नहीं बख्शा गया था. जिससे यह पता चलता है कि बीजेपी अपराधियों का समर्थन करती है. बसपा सुप्रीमो ने कार्यकर्ताओं से कहा कि वह इस साल उनके जन्मदिन के मौके पर ज्यादा से ज्यादा लोगों के बीच जाएं.

'BSP ने किया CAA का विरोध'

बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि लगातार कांग्रेस द्वारा यह भ्रम फैलाया जा रहा है कि यूपी में सिर्फ वही सीएए का विरोध कर रही है. लेकिन सबसे पहले बसपा ने इस कानून का विरोध किया था.

First Published: Jan 15, 2020 09:04:22 AM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो