मारपीट मामले में BJP नेता आकाश विजयवर्गीय को 7 जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेजा गया

News State Bureau  |   Updated On : June 26, 2019 08:41:47 PM
आकाश विजयवर्गीय (ANI)

आकाश विजयवर्गीय (ANI) (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  भारी बारिश की आशंका के कारण घर खाली कराने पहुंचे थे कर्मचारी
  •  आकाश ने समर्थकों के साथ की थी मारपीट
  •  IPC की धारा 353, 294, 323, 506, 147, 146 के तहत मुकदमा दर्ज

इंदौर:  

बीजेपी के कद्दावर नेता कैलाश विजयवर्गीय के बड़े बेटे और विधायक आकाश विजयवर्गीय को नगर निगम के अधिकारियों के साथ मारपीट के मामले में गिरफ्तार किया गया है. इस वीडियो में वह नगर निगम के एक अधिकारी को क्रिकेट बैट से मार रहे हैं. इंदौर नगर निगम के अधिकारियों की टीम जर्जर मकानों को तोड़ने आई थी. इस मार-पीट के बाद आकाश विजयवर्गीय को 7 जुलाई तक की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

यह भी पढ़ें- नगर निगम के अधिकारी मकान तोड़ने पहुंचे तो BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे ने पीटा

लेकिन आकाश नगर निगम के अधिकारियों पर ही बरस पड़े थे. एक वीडियो सामने आया था जिसमें कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश नगर निगम के अधिकारी पर हमला करते हुए दिखे थे. बताया जा रहा है कि नगर निगम की टीम और विधायक के बीच बहस हुई.

यह भी पढ़ें- कुलपति के खिलाफ दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज, नौकरी का झांसा देकर किया रेप

जो बाद में बढ़ती चली गई. जिसके बाद उन्होंने अधिकारियों के साथ बदसलूकी की. आकाश क्रिकेट बैट लेकर नगर निगम के अधिकारियों पर हमला करने के लिए पहुंच गए. विधायक को ऐसा करता देख समर्थक भी पीछे नहीं रहे. उन्होंने भी नगर निगम के कर्मियों के साथ मारपीट की.

यह भी पढ़ें- सरकारी नौकरी में सैलरी मिली 53 लाख, संपत्ति निकली करोड़ों की, जांच एजेंसी के छूटे पसीने

जिस क्षेत्र में नगर निगम की टीम गई थी वहां भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है. जिसके कारण नगर निगम की टीम जर्जर और पुराने मकानों को खाली कराने पहुंची थी. ताकि कोई अनहोनी न घटे.  इस मामले में आकाश के साथ अन्य 10 लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है. IPC की धारा 353, 294, 323, 506, 147, 146 के तहत मुकदमा दर्ज हुआ है.

यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश में बस और कार की भिड़ंत में दूल्हे समेत 3 लोगों की मौत

यह पहला मौका नहीं है जब आकाश इस तरह से चर्चा में आए हैं. इससे पहले वह अपने विवादित बयानों के चलते सुर्खियां बटोर चुके हैं. लोकसबा चुनाव 2019 के दौरान उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया था. कैलाश ने कहा था कि राहुल गांधी पहले तो पप्पू थे, लेकिन अब गधों के सरताज हैं. हालांकि उनके इस बयान के बाद काफी बवाल हुआ था.

आकाश विजयवर्गीय बीजेपी के कद्दावर नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे हैं और इंदौर-3 विधानसभा सीट से विधायक हैं. मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान भी उन्हें टिकट मिलने को लेकर काफी बवाल हुआ था. कैलाश विजयवर्गीय राष्ट्रीय राजनीति में बीजेपी का एक बहुत बड़ा नाम हैं. अपनी राजनीतिक की मेहनत के कारण ही बीजेपी ने उन्हें पश्चिम बंगाल का प्रभारी बनाया है.

First Published: Jun 26, 2019 04:48:49 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो