BREAKING NEWS
  • उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड से जुड़ी आज की ताजा खबरें पढ़िए- Read More »
  • बौखलाया पाकिस्तान, हैरान इमरान,अब ये करने उतरे हैं- Read More »
  • RBI गवर्नर का बड़ा बयान, कहा-वैश्विक विकास धीमा, लेकिन दुनिया में नहीं है कोई मंदी- Read More »

'धिक्कार है शिवराज तुम्हें, तुम्हारे चेले ISI के एजेंट निकले'

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : August 26, 2019 07:03:27 AM
दिग्विजय सिंह और शिवराज सिंह चौहान (फाइल फोटो)

दिग्विजय सिंह और शिवराज सिंह चौहान (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

मध्य प्रदेश में टेरर फंडिंग रैकेट का खुलासा होने के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान पर हमला किया है. टेरर फंडिंग मामले में सतना में 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. जिसमें एक बीजेपी के आईटी सेल का संयोजक भी था. दिग्विजय सिंह ने ट्वीट करके शिवराज सिंह पर निशाना साधा है.

दिग्विजय सिंह ने कहा, 'ISI पाकिस्तान के लिए ख़ुफ़िया गिरी करते हुए भाजपा के नेताओं को NSA में गिरफ़्तार कर सख़्त सज़ा मिलनी चाहिए. धिक्कार है शिवराज तुम्हें, तुम्हारे चेले पाकिस्तान ISI के एजेंट निकले जिन्हें तुमने ज़मानत पर छुड़वाने में मदद की. देशद्रोही कौन है?

बता दें कि टेरर फंडिंग नेटवर्क का खुलासा पहली बार 2017 में हुआ था. मध्य प्रदेश के अलग-अलग शहरों से 10 लोगों की गिरफ्तारी हुई थी. उसमें एक बीजेपी के आईटी सेल का संयोजक भी था. जिसकी गिरफ्तारी भोपाल से हुई थी. लेकिन एमपी में इन सबका आका बलराम सिंह था. बलराम की गिरफ्तारी उस वक्त भी हुई थी. फिर जमानत पर छूट गया था.
लेकिन एक बार फिर से 22 अगस्त को भोपाल STF की टीम ने शातिर आरोपी बलराम सहित सतना में पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है. जो मध्य प्रदेश से बैठे-बैठे कई राज्यों में टेरर फंडिंग का रैकेट चला रहे थे. पकड़े गए लोगों के पास से 17 पाकिस्तानी मोबाइ नंबर बरामद किए गए हैं.

इसे भी पढ़ें:जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद अब सचिवालय पर लहराया केवल तिरंगा

आरोपियों का नाम बलराम सिंह, सुनील सिंह, शुभम तिवारी, भार्गवेंद्र सिंह और उसका एक साथी है. टेरर फंडिंग के ये सभी आरोपी सतना के रहने वाले हैं.

मध्य प्रदेश में टेरर फंडिग के रैकेट का खुलासा हुआ है. भोपाल STF की टीम ने शातिरर आरोपी बलराम सहित सतना में पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है. जो मध्य प्रदेश से बैठे-बैठे कई राज्यों में टेरर फंडिंग का रैकेट चला रहे थे. पकड़े गए लोगों के पास से 17 पाकिस्तानी मोबाइ नंबर बरामद किए गए हैं.

First Published: Aug 25, 2019 10:21:55 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो