BREAKING NEWS
  • मामूली बातों पर सड़कों पर उतरी भीड़ ने इन देशों को बनाया 'बंधक', हिंसक प्रदर्शनों से दहले शहर- Read More »
  • महाराष्‍ट्र विधानसभा चुनावः 8 करोड़ 98 लाख से अधिक मतदाताओं के हाथ 3237 उम्मीदवारों की किस्‍मत- Read More »
  • रुद्रप्रयाग में बड़ा हादसा, पहाड़ी से मलबा गिरने से 8 लोगों की मौत- Read More »

'सुना था सिर्फ अधिकारियों-कर्मचारियों के तबादले होते हैं, लेकिन इस सरकार में तो कुत्तों के तबादले हो गए'

Dalchand  |   Updated On : July 14, 2019 12:52:02 PM
फाइल फोटो

फाइल फोटो (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

स्नाइपर डॉग्स के तबादलों की लिस्ट ने मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार को एक बार फिर सवालों में खड़ा कर दिया है. कुत्तों के तबादले करने के बाद बीजेपी ने इस मुद्दे पर कमलनाथ सरकार को घेरना शुरू कर दिया है. बीजेपी नेता विश्वास सारंग ने सवाल उठाए हुए कहा कि अभी तक तो हमने सुना था कि अधिकारियों और कर्मचारियों के तबादले हो रहे हैं. मगर इस सरकार में तो कुत्तों के तबादले हो रहे हैं.

यह भी पढ़ें- मुस्लिमों को सदस्यता अभियान से जोड़ने के लिए मस्जिदों के बाहर स्टॉल लगाएगी बीजेपी

वहीं कमलनाथ सरकार के मंत्री कुत्तों के तबादलों को सामान्य प्रक्रिया बता रहे हैं. सरकार का बचाव करते हुए जनसम्पर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि कुत्ता एक वफादार प्राणी है. साथ ही उन्होंने बीजेपी नेताओं के बयानों पर पलटवार करते हुए कहा कि बीजेपी हर एक चीज को मुद्दा बनाती है. क्या बीजेपी राज में ट्रांसफर नहीं होते थे ?

बता दें कि मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने शनिवार को चौंका देने का आदेश जारी किया था. सरकार ने 46 कुत्तों के ट्रांसफर की लिस्ट जारी की थी. कुत्तों के साथ-साथ उनके डॉग हैंडलर्स का भी ट्रांसफर किया गया था. पीटीएस डॉग 23वीं वाहिनी विसबल के द्वारा डॉग हैंडलरों को उनके डॉग के साथ अस्थाई रूप से आगामी आदेश तक ड्यूटी हेतु नवीन स्थान पर पदस्थ किया गया.

यह भी पढ़ें- प्रशासन ने सचिव की जगह कर दिया सरपंच का तबादला, अब हो रही है जमकर किरकिरी

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में जब से कमलनाथ की नई सरकार सत्ता में आई है. तब से लगातार प्रशासनिक सर्जरी कर रही है. सिपाही से लेकर पुलिस अधीक्षक तक, लेखपाल से लेकर कलेक्टर तक, तबादला एक्सप्रेस दौड़ लगा रही है. लेकिन सरकार के स्नाइपर डॉग्स की तबादला लिस्ट जारी करने को लेकर सवाल उठ रहे हैं. राज्य में ताबड़तोड़ तबादलों को लेकर भारतीय जनता पार्टी पहले से ही कमलनाथ सरकार पर तबादला उद्योग चलाने के आरोप लगाती रही है. तबादलों का मुद्दा बीते दिनों विधानसभा सत्र में हंगामे की वजह भी बना था.

यह वीडियो देखें- 

First Published: Jul 14, 2019 12:33:38 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो