BREAKING NEWS
  • ठांय-ठांय के बाद यूपी पुलिस ने इस तरह से की अनोखी घुड़सवारी, देखें वीडियो- Read More »

तेजस्वी यादव ने कहा- मोकामा शेल्टरहोम से साजिश के तहत भगाई गईं लड़कियां

IANS  |   Updated On : February 25, 2019 08:57:48 PM
तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

तेजस्वी यादव (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

नई दिल्ली :  

बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने पटना के मोकामा बालिका आवासगृह से सात लड़कियों के भागने की घटना को साजिश करार देते हुए इसे सफेदपोशों को बचाने की कवायद बताया. सत्तापक्ष ने हालांकि इसका जवाब दिया. तेजस्वी ने सोमवार को मोकामा की घटना को मुजफ्फरपुर कांड से जोड़ते हुए ट्वीट किया, 'मुजफ्फरपुर दुष्कर्म कांड की पीड़ित और गवाह लड़कियां भागी नहीं थीं. जैसा कि मैंने कहा था, उन्हें एक साजिश के तहत भगाने की पटकथा लिखी गई, ताकि सत्ता के शीर्ष पर बैठे सफेदपोशों को बचाया जा सके. कौन है वो बड़ा नेता और अधिकारी जो लड़कियों का शोषण करता था?'

एक अन्य ट्वीट में तेजस्वी ने आगे लिखा, '34 बच्चियों के साथ सत्ता संरक्षित जनदुष्कर्म जैसा घृणित महापाप होने पर भी मुख्यमंत्री समेत समूचा बिहार सरकार इस मामले पर पूरी तरह चुप है. उच्च न्यायालय, सर्वोच्च न्यायालय, राष्ट्रीय महिला आयोग व मानवाधिकार आयोग ने इस मामले को लेकर नीतीश सरकार को क्या-क्या नहीं कहा, लेकिन इन पर कोई असर नहीं हो रहा है.'

और पढ़ें: Pulwama attack : NIA को मिली बड़ी सफलता, हमले में इस्तेमाल गाड़ी के मालिक के घर पहुंची जांच टीम

तेजस्वी यहीं नहीं रुके. उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा, 'मुजफ्फरपुर दुष्कर्मकांड में ऐसा कौन शख्स संलिप्त है जिसे बचाने को लेकर बिहार सरकार सभी संस्थाओं की लताड़ बेशर्मी से चुपचाप सुन रही है. सीबीआई अधिकारियों का तबादला करवा रही है. अपने आप से पूछिए अगर 34 अनाथ बच्चियों की जगह हमारी अपनी बहन-बेटी होती तो हम सभी क्या ऐसे ही चुप रहते?'

जनता दल (युनाइटेड) के प्रवक्ता नीरज कुमार ने कहा कि नीतीश सरकार न किसी दोषी को बचाती है और न किसी को फंसाती है. उन्होंने कहा, 'कोई सर्वोच्च न्यायालय से पर नहीं है. इस पूरे मामले की सुनवाई सर्वोच्च न्यायालय की निगरानी में हो रही है, जो दोषी होगा उसे सजा मिलेगी.'

इसे भी पढ़ें: J&K: पाकिस्तान ने नौशेरा में फिर की गोलाबारी, नापाक हरकत का सेना दे रही मुंहतोड़ जवाब

उन्होंने तेजस्वी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि राजद के विधायक राजवल्लभ यादव जो एक नाबालिग से दुष्कर्म के ममले में दोषी साबित हुए हैं, उस बच्ची से कौन दुश्मनी है कि अब तक दुष्कर्म के आरोपी राजवल्लभ को पार्टी से अबतक नहीं निकाला गया. उन्होंने कहा कि ऐसी घटना जिसके साथ हो निंदनीय है व दोषी को कड़ी सजा मिलनी चाहिए.

गौरतलब है कि पटना जिले के मोकामा स्थित एक बालिका आवासगृह से शुक्रवार रात सात लड़कियां फरार हो गई थीं, बाद में इनमें से छह को दरभंगा के एक गांव से बरामद कर लिया गया था. फरार एक लड़की का अभी तक पता नहीं चल सका है.

First Published: Feb 25, 2019 08:55:37 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो