'कहीं बुरे तो कहीं अच्छे' काम के लिए पिटे पुलिसवाले, पढ़िए पूरी खबर

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : November 17, 2019 07:28:48 AM
'कहीं बुरे तो कहीं अच्छे' काम के लिए पिटे पुलिसवाले, पढ़िए पूरी खबर

'कहीं बुरे तो कहीं अच्छे' काम के लिए पिटे पुलिसवाले, पढ़िए पूरी खबर (Photo Credit : फाइल फोटो )

मधेपुरा/बांका :  

बिहार के मधेपुरा जिले में रात में एक विधवा के घर में पकड़े जाने पर एक पुलिस उपनिरीक्षक (एसआई) की ग्रामीणों ने पिटाई कर दी. एक पुलिस अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी. उदाकिशनगंज के अनुमंडल पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ) सीपी यादव ने बताया कि शुक्रवार-शनिवार मध्य रात्रि को फूलौत पुलिस चौकी के पास पुलिस उपनिरीक्षक को जब विधवा के घर में पाया गया, तब वह ड्यूटी पर था. पुलिस सूत्रों ने बताया कि जब ग्रामीण विधवा के घर में जबरन घुसे, तब 50 वर्षीय उपनिरीक्षक वहीं पर पाए गए. ग्रामीणों ने उसकी पिटाई कर दी, लेकिन महिला को छोड़ दिया.

यह भी पढ़ेंः अयोध्या मामले पर ओवैसी पर फिर गुर्रराए गिरिराज, जानें अब क्या कहा

एसडीपीओ ने बताया कि सूचना मिलने पर वह स्वयं और उदाकिशनगंज के अनुमंडल अधिकारी (एसडीओ) जेड हसन दलबल के साथ घटना स्थल पर पहुंचे और ग्रामीणों से मामले में कड़ी कार्रवाई करने का वादा करने के बाद उपनीरिक्षक को उनके कब्जे से मुक्त कराया. उन्होंने कहा कि उपनीरिक्षक को निलंबित कर दिया गया है. वरिष्ठ अधिकारियों को घटना की जानकारी दे दी गई है.

यह भी पढ़ेंः बिहार: पुलिस ने सात अवैध बंदूकों के कारखाने का किया भंडाफोड़, चार गिरफ्तार

उधर, बिहार के बांका जिले में पुलिस टीम पर बालू माफिया ने हमला कर दिया. रजौन सर्किल के इंस्पेक्टर राजेश कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम अवैध बालू माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने पहुंची थी. पुनसिया के पास गाड़ी की धड़पकड़ करने के क्रम में माफियाओं ने सर्किल इंस्पेक्टर राजेश कुमार पर हमला कर दिया. इस हमले में एक पुलिसकर्मी घायल हो गया. हालांकि इंस्पेक्टर राजेश बाल-बाल बच गए. वहीं माफिया अवैध बालू से लदा ट्रैक्टर छुड़ाकर भाग गए. फिलहाल पुलिस ने केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है.

यह वीडियो देखेंः 

First Published: Nov 17, 2019 07:28:48 AM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो