BREAKING NEWS
  • Polls of Exit Polls: सभी न्‍यूज चैनलों का एग्‍जिट पोल एक साथ यहां पढ़ें- Read More »
  • पश्चिम बंगाल में 'दीदी' का जलवा कायम, दहाई में पहुंच सकती है BJP की सीट- Read More »
  • Exit Poll Results 2019: हरियाणा में बीजेपी कर रही Gain, पंजाब दे रहा NDA को Pain- Read More »

करतारपुर कॉरिडोर के प्रस्ताव पर भारत ने पाकिस्तान से कहीं ये बड़ी बातें

News State Bureau  |   Updated On : March 15, 2019 11:16 AM
फाइल फोटो

फाइल फोटो

नई दिल्ली:  

करतारपुर कॉरिडोर के निर्माण को मूर्त रूप देने के लिए भारत और पाकिस्तान के अफसरों को बीच बातचीत हुई. श्रद्धालुओं की सुविधाओं को देखते हुए इंडिया ने पाकिस्तान को कुछ प्रस्ताव दिए. इसमें भारतीय श्रद्धालुओं को बिना वीजा के दर्शन के साथ यात्रा के दौरान कम-से-कम दस्तावेजों की प्रक्रिया पर जोर दिया गया है. विदेश मंत्रालय ने स्पष्ट कर दिया है कि लोगों की श्रद्धा और मुद्दों को लेकर ही ये बैठक हुई है.

यह भी पढ़ें ः भारत और पाकिस्तान ने करतारपुर कॉरिडोर पर रचनात्मक चर्चा की

विदेश मंत्रालय के संयुक्त सचिव दीपक मित्तल ने कहा, अटारी बॉर्डर पर गुरुवार को भारत-पाकिस्तान के अधिकारियों की बैठक हुई थी. इस दौरान पाकिस्तान को कहा गया कि वह ऐसा कोई कदम न उठाए, जो श्रद्धालुओं के खिलाफ हो. अब दोनों देशों के बीच अगली बैठक वाघा बॉर्डर में 2 अप्रैल को होगी.

यह भी पढ़ें ः CRPF हमले के बाद करतारपुर पर पाकिस्तान से बात नहीं करने के फैसले के खिलाफ सिद्धू, कहा फिर सोचे सरकार

गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव एससीएल दास ने कहा, पाकिस्तान से करतारपुर कॉरिडोर पूरे साल बिना किसी रुकावट के खुला रखने के लिए कहा गया है. क्योंकि एक बार खुलने के बाद देश और दुनिया के लोग जत्थों में यहां आएंगे. ऐसे में गुरुपर्व और बैसाखी के मौके पर बिना वीजा के 10 हजार से ज्यादा श्रद्धालुओं के आने-जाने की अनुमति मिलनी चाहिए. उन्होंने कहा, पहले फेज में हमने हर दिन पांच हजार तीर्थयात्रियों के दौरे के लिए प्रस्ताव दिया है. इसमें भारतीय नागरिकों के साथ-साथ भारतीय मूल के नागरिकों को भी शामिल करने के लिए कहा है.

यह भी पढ़ें ः करतारपुर गलियारे को लेकर संपर्क में हैं भारत-पाक : बिसारिया

बता दें कि पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में एयर स्ट्राइक किया था. इसके बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया था. इस तनाव के बाद यह पहली बैठक है. इस मौके पर पाकिस्तान के उप उच्चायुक्त हैदर शाह ने कहा, हम करतारपुर गलियारा खोलना चाहते हैं, ताकि सिख समुदाय के लोगों को पाकिस्तान आने का मौका मिल सके.

First Published: Friday, March 15, 2019 11:15 AM

RELATED TAG: Kartarpur Corridor Project, Kartarpur Corridor, India Pakistan, Attari Wagah Border, Kartarpur, India Pakistan Metting,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो