एशियन जूनियर चैम्पियनशिप में भारत का विजयी आगाज, कजाकिस्तान को 5-0 से हराया

पांचवीं वरीयता प्राप्त भारत ने शनिवार से इंडोनेशिया के जकार्ता में शुरू हुई एशियन जूनियर बैडमिंटन चैम्पियनशिप का विजयी आगाज किया है।

  |   Updated On : July 14, 2018 06:20 PM
वर्ल्ड नंबर-9 लक्ष्य सेन (PTI)

वर्ल्ड नंबर-9 लक्ष्य सेन (PTI)

नई दिल्ली:  

पांचवीं वरीयता प्राप्त भारत ने शनिवार से इंडोनेशिया के जकार्ता में शुरू हुई एशियन जूनियर बैडमिंटन चैम्पियनशिप का विजयी आगाज किया है।

भारतीय खिलाड़ियों ने चैम्पियनशिप के अपने पहले मैच में कजाकिस्तान को एकतरफा मुकाबले में 5-0 से मात दी। भारत को यह मैच जीतने में 100 मिनट से कुछ ही मिनट ज्यादा का समय लगा। 

कजाकिस्तान के खिलाड़ी भारतीय खिलाड़ियों के सामने कहीं भी नहीं टिक पाए। पहले मैच में वर्ल्ड नंबर-11 आकर्षी कश्यप ने ग्रुप-सी के मुकाबले में इया गोरडेयेया को 21-5, 21-4 से मात दी। 

आकर्षी ने शानदार खेल दिखाया और अपनी विपक्षी को बिल्कुल भी मौके नहीं दिए। आकर्षी ने पहले गेम में जो शानदार शुरुआत की वह दूसरे गेम में भी जारी रही। यहीं भी इया भारतीय खिलाड़ी के सामने बेबस दिखीं। 

वर्ल्ड नंबर-9 लक्ष्य सेन के लिए हालांकि जीत की राह आसान नहीं रही। उन्हें शुरुआत में दिक्कतों का सामना करना पड़ा। वह हालांकि दिमित्रि पानारिन को 21-15, 21-12 से मात देने में सफल रहे। दिमित्रि ने पहले गेम में कम से कम अपने जीतने की उम्मीद जगाए रखे थी।

उन्होंने पहले गेम में कुछ शानदार शॉट खेले और लक्ष्य को परेशान किया। लक्ष्य ने एक बार जब अपने विपक्षी की कमियों को पकड़ लिया तो उन्हें छह अंक की बढ़त के साथ जीत हासिल करने में किसी तरह की दिक्कत नहीं हुई। दूसरे गेम में भी कजाकिस्तान के खिलाड़ी ने वापसी की अच्छी कोशिश की, लेकिन वह सफल नहीं हो सके।

और पढ़ें: थाईलैंड ओपन 2018: मरिस्का तुनजुंग को हरा पहली बार फाइनल में पहुंची पी वी सिंधु 

भारतीय टीम 2-0 से आगे थी। महिला युगल में जीत हासिल कर भारत ने अपनी बढ़त को और मजबूत कर लिया। सिमरन सिंह और रितिका ठाकेर ने कजाकिस्तान की इया और ऐशा झुमाबेक को 21-7, 21-8 से मात दी। इस जीत के साथ ही भारत ने 3-0 की अजेय बढ़त ले ली थी। 

पुरुष युगल के अगले मैच में भारत के मनजीत सिंह और डिंकु सिंह ने महज 18 मिनट में दामिर अब्दुलायेव और केमरान ताजिबुलायेव को 21-5, 21-16 से हरा दिया। 

मिश्रित युगल के आखिरी मैच में भारत की सृष्टि जुपिडी और श्रीकृष्ण साई ने दिमित्रि पानारिन और ऐशा को 21-7, 21-9 से आसान जीत हासिल की।

भारत रविवार को होने वाले अपने अगले मैच में श्रीलंका से भिड़ेगा। उसकी कोशिश कजाकिस्तान के खिलाफ दिखाई फॉर्म को जारी रखने पर होगी। भारत के लिए हालांकि रविवार शाम को कोरिया के खिलाफ होने वाला आखिरी ग्रुप मैच काफी मुश्किल होगा। इसी मैच से पता चलेगा कि भारत ग्रुप दौर का अंत पहले स्थान के साथ करता है या नहीं।

भारत के साथ ग्रुप-सी में श्रीलंका, कजाकिस्तान और कोरिया हैं। ऐसे में उम्मीद है कि भारत नॉकआउट स्टेज में कदम रख लेगा। हर ग्रुप में शीर्ष दो टीमें नॉकआउट दौर में जाएंगी। 

चीन, इंडोनेशिया, कोरिया और थाईलैंड को इस चैम्पियनशिप में भारत से ज्यादा वरीयता प्राप्त है।

और पढ़ें: कुलदीप-चहल टेस्ट की दावेदारी पेश कर रहे हैं : विराट कोहली

First Published: Saturday, July 14, 2018 06:13 PM

RELATED TAG: Nikita Mikhailis, Asian Women Junior Handball Championship, Dingku Singh, Manjit Singh,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो