2020 में होगी विजय माल्या के प्रत्यर्पण पर सुनवाई, ब्रिटेन उच्च न्यायालय से मिली जानकारी

News State Bureau  |   Updated On : July 18, 2019 06:04:11 PM
विजय माल्या (फाइल)

विजय माल्या (फाइल) (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  अब 2020 में होगी माल्या के प्रत्यर्पण की सुनवाई
  •  ब्रिटेन कोर्ट ने दी जानकारी
  •  भारतीय बैंकों से 9 हजार करोड़ का फ्रॉड करके भागा है माल्या

नई दिल्ली:  

शराब कारोबारी और भारतीय बैंको से करोड़ों रुपये का गबन कर भागे विजय माल्या के प्रत्यर्पण की सुनवाई अब ब्रिटेन उच्च न्यायालय फरवरी 2020 में करेगा. ब्रिटेन उच्च न्यायालय ने गुरुवार को इस बात की जानकारी दी. 11 फरवरी 2020 को माल्या के प्रत्यर्पण की सुनवाई तीन दिनों तक चलेगी. आपको बता दें कि इससे पहले 2 जुलाई को लंदन के उच्च न्यायालय ने भगोड़े विजय माल्या को प्रत्यर्पण के खिलाफ अपील करने की इजाजत दी थी.

आपको बता दें कि अगर लंदन उच्च न्यायालय ने माल्या को अपील करने की अनुमति नहीं दी होती तो भारत अगले कुछ दिनों में ही भगोड़े माल्या को प्रत्यर्पण संधि के तहत वापस ला सकता था. विजय माल्या को भारत में भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित किया गया है और भारतीय जांच एजेंसियों की अर्जी पर यहां की निचली अदालत ने उसके प्रत्यर्पण का आदेश दिया था. आपको बता दें कि शराब कारोबारी विजय माल्या भारतीय बैंकों के साथ 9,000 करोड़ रुपये के गबन और मनी लान्ड्रिंग मामले में आरोपी है ब्रिटेन के गृहमंत्री साजिद वाजिद ने माल्या को भारतीय अधिकारियों के हवाले किए जाने के आदेश पर दस्तखत भी कर दिए थे.

यह भी पढ़ें -हाफिज सईद की गिरफ्तारी पर भारत ने कहा, 2001 से 8 बार ऐसा नाटक दिखाता रहा है पाकिस्‍तान

पिछले दिनों भगोड़े विजय माल्या ने सोशल मीडिया पर किंगफिशर एयरलाइंस के कर्ज को लेकर सार्वजनिक तौर पर भारतीय बैंकों के पूरे पैसे लौटाने की बात कही थी माल्या अभी जमानत पर है उसने कहा कि मैं हमेशा कहता रहता हूं कि ये आरोप गलत और मनगढ़ंत हैं इन आरोपों का कोई आधार नहीं है मुझे शांति से जीना है इसलिए मैं अब बैंकों का पूरा पैसा लौटाने के लिए तैयार हूं.

यह भी पढ़ें -VIDEO: दिल्ली की DTC बस में लड़की ने किया हॉट डांस, जानिए फिर क्या हुआ

First Published: Jul 18, 2019 05:35:24 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो