BREAKING NEWS
  • बिहार के गौतम बने 'KBC 11' के तीसरे करोड़पति, कहा-पत्नी की वजह से मिला मुकाम- Read More »
  • छोटा राजन का भाई उतरा महाराष्ट्र के चुनावी रण में, इस पार्टी ने दिया टिकट - Read More »
  • IND vs SA, Live Cricket Score, 1st Test Day 1: भारत ने टॉस जीता पहले बल्‍लेबाजी- Read More »

ममता दीदी के 'चहेते' कमिश्नर बाज नहीं आ रहे चालबाजियों से, अब CBI के सामने पेश किया नया बहाना

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : September 15, 2019 06:26:05 AM
कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार (फाइल फोटो)

कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार (Rajeev Kumar) की मुश्किलें बढ़ती जा रही है. कलकत्ता उच्च न्यायालय (Calcutta High Court) ने शुक्रवार को उनकी गिरफ्तारी पर लगी रोक को हटा दिया था. सीबीआई (CBI) ने नोटिस जारी कर उन्हें शनिवार को सीबीआई के सामने पेश होने की हिदायत दी थी, लेकिन वह सीबीआई के सामने पेश नहीं हुए. उन्होंने सीबीआई को एक मेल किया, जिसमें उन्होंने पेश न होने का कारण बताया है.

यह भी पढ़ेंःITF का बड़ा ऐलान- पाकिस्तान के इस्लामाबाद में ही होगा भारत-पाक डेविस कप

ममता दीदी के 'चहेते' कोलकाता के पूर्व कमिश्नर राजीव कुमार अपनी चालबाजियों से बाज नहीं आ रहे हैं. सूत्रों के अनुसार, राजीव कुमार ने शनिवार को सीबीआई को मेल कर पेशी के लिए एक समय का मांगा है. उन्होंने मेल में लिखा कि उनकी पत्नी की तबीयत ठीक नहीं है, इसलिए वह सीबीआई के सामने पेश होने में असमर्थ हैं, लेकिन सीबीआई ने उन्हें समय नहीं दिया है.

बता दें कि कोलकाता हाईकोर्ट ने शुक्रवार को पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार की गिरफ्तारी पर लगी रोक हटा दी है. हजारों करोड़ों रुपये के शारदा चिटफंड घोटाले में कोलकाता के पूर्व पुलिस आयुक्त तथा सीआईडी के एडीजी राजीव कुमार को हिरासत में लेकर पूछताछ करने के मामले में लंबी सुनवाई के बाद कोलकाता हाईकोर्ट ने शुक्रवार को फैसला सुनाया है. दरअसल सीबीआई राजीव कुमार को हिरासत में लेकर पूछताछ करना चाहती है. वहीं दूसरी ओर राजीव कुमार अपनी गिरफ्तारी पर रोक लगाने के लिए हाईकोर्ट में याचिका दायर किए थे.

यह भी पढ़ेंःयू-19 Asia Cup: भारत ने बांग्लादेश को हराकर सातवीं बार जीता खिताब, जानें क्या रहा स्कोर

इसके सीबीआई ने उन्हें नोटिस जारी कर शनिवार को पेश होने के लिए कहा था, लेकिन वह सीबीआई के सामने नहीं पेश हुए. बताया जा रहा है कि सीबीआई शनिवार को पूर्व पुलिस क​मिश्नर राजीव कुमार के वकील के घर भी गई थी. बता दें कि शारदा चिटफंड केस में सीबीआई राजीव कुमार को पूछताछ के लिए लेना चाहती थी, लेकिन राज्य की सीएम ममता बनर्जी ने शुरुआती बातचीत से पहले ही राजीव का बचाव किया. इतना ही नहीं वो धरने पर भी बैठ गई. इसके बाद मामले ने तूल पकड़ी और मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया. बंगाल की सीएम ने धरना खत्म करते हुए सुप्रीम कोर्ट के आदेश से मामले की कार्रवाई चलने दी. हालांकि, राजीव के बचाव की हर कोशिश की जा रही है.

First Published: Sep 14, 2019 06:36:24 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो