पाकिस्तान ने नहीं मानी भारत की बात, सिख तीर्थयात्रियों को वीजा देने से किया इंकार

IANS  |   Updated On : June 26, 2019 11:39:03 PM
फाइल फोटो

फाइल फोटो (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

पाकिस्तान ने बुधवार को 58 सिख तीर्थयात्रियों को वीजा देने से इंकार कर दिया, जो महाराजा रणजीत सिंह की पुण्यतिथि पर एक गुरुद्वारे के दर्शन के लिए वहां जाना चाहते थे. हालांकि, पाकिस्तान ने 224 लोगों को वीजा जारी कर दिया है. पिछले दिनों एससीओ समिट में विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान से वीजा जारी करने के लिए कहा था, लेकिन इसके बाद पाक नहीं माना और उसने वीजा जारी करने इंकार कर दिया है.

यह भी पढ़ेंः Top -10 News PM मोदी ने राज्यसभा में विपक्ष पर बोला हमला देखिए आज की 10 बड़ी खबरें

शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) के सचिव मंजीत सिंह ने यहां मीडिया से कहा, "हमने 282 तीर्थयात्रियों की सूची भेजी थी, लेकिन सिर्फ 224 को ही वीजा जारी किया गया और बाकी को वीजा देने से इंकार कर दिया गया." ये तीर्थयात्री गुरुवार को एक विशेष रेलगाड़ी से यहां पास में स्थित अटारी से पाकिस्तान की यात्रा पर जाएंगे.

यह भी पढ़ेंः यूएस के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने कहा, भारत को तेल की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करेगा अमेरिका

इस बीच, वीजा से इंकार किए गए सिख तीर्थयात्रियों ने यहां एसजीपीसी कार्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया. पाकिस्तान जाने वाले ये भारतीय सिख तीर्थयात्री जो 27 जून-06 जुलाई 2019 से महाराजा रणजीत सिंह जी की बरसी में हिस्सा लेने के लिए पाकिस्तान जा रहे हैं. 1974 के धार्मिक तीर्थों के दौरे पर पाकिस्तान-भारत प्रोटोकॉल के ढांचे के भीतर, भारत के हजारों तीर्थयात्री हर साल विभिन्न धार्मिक त्योहारों/अवसरों में हिस्सा लेने के लिए पाकिस्तान जाते हैं.

यह भी पढ़ेंः राजस्थान: बाड़मेर में 5 बेटियों के साथ मां ने दी जान, मौत की वजह बन गई पहेली

इस बार, उच्चायोग ने उन सिख यत्रियों को भी नियुक्त किया, जिन्हें 14-23 जून 2019 तक गुरु अर्जुन देव जी के शहादत दिवस के लिए पाकिस्तानी वीजा दिया गया था, लेकिन वे पाकिस्तान नहीं जा सके. नई दिल्ली में उच्चायोग द्वारा जारी किए गए वीजा दुनिया के विभिन्न हिस्सों से इस आयोजन में भाग लेने वाले सिख तीर्थयात्रियों को दिए गए वीजा के अलावा हैं.

First Published: Jun 26, 2019 11:38:42 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो