केंद्र के राहत पैकेज का मायावती ने किया स्वागत, साथ में की ये मांग

News State Bureau  |   Updated On : March 26, 2020 07:59:48 PM
Mayawati

मायावती। (Photo Credit : फाइल फोटो )

नई दिल्ली:  

बसपा सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने लॉकडाउन के बीच केंद्र सरकार के राहत पैकेज का स्वागत किया है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा 'देश भर में कोरोना की मार व सरकारी लॉकडाउन से निपटने के लिए केन्द्र सरकार द्वारा आज घोषित किया गया आर्थिक पैकेज सराहनीय कदम है. साथ ही, अपने-अपने घरों को वापस लौटने को मजबूर लोगों को इधर-उधर बेसहारा भटकने देने के बजाए उन्हें उनके घर तक सुरक्षित पहुंचाने की भी अपील.'

कोरोना वायरस (Corona Virus) महामारी के कठिन दौर से देश गुजर रहा है. देश के गरीब वर्ग के लिए मोदी सरकार ने गुरुवार को राहत पैकेज का ऐलान किया है. कोरोना के आर्थिक प्रभाव से निपटने के लिए 1.7 लाख करोड़ रुपये का पैकेज केंद्र सरकार की तरफ से ऐलान किया गया है.

यह भी पढ़ें- लॉकडाउन के दौरान नेशनल हाईवे पर नहीं लगेगा टोल टैक्स

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गरीबों, मजदूरों, कर्मचारियों के लिए 1.70 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान किया गया है. इसका नाम पीएम गरीब कल्याण पैकेज है. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत गरीबों को कैश ट्रांसफर किया जाएगा. इसके अलावा 3 महीनों तक एम्पलॉई और एम्पलॉयर दोनों के हिस्से का पीएफ भी सरकार ही देगी.

मायावती ने की थी ये मांग

बसपा सुप्रीमो मायावती ने लॉकडाउन के बाद ट्वीट कर लोगों को राहत देने की मांग की थी. मायावती ने ट्वीट कर कहा था कि देश की 130 करोड़ गरीब/मेहनतकश जनता पर 21 दिनों के लाॅकडाउन/कर्फ्यू वाली पाबन्दियों को कड़ाई से लागू करने के बाद खासकर लोगों का पेट भरने अर्थात उनकी रोटी-रोजी की समस्या को दूर करने के लिए केन्द्र व राज्य सरकारों द्वारा राहत पैकेज की व्यवस्था बहुत ही जरूरी. इसपर तुरन्त ध्यान दें.

मायावती ने आगे लिखा कि साथ ही इस देशबन्दी में प्राइवेट सेक्टर केे लाॅकडाउन को लेकर उन्हें दी गई विभिन्न रिआयतों के साथ-साथ वहाँ काम करने वाले लोगों को भी महीने का वेतन दिलाने की व्यवस्था केन्द्र व राज्य सरकारों को सुनिश्चित करनी चाहिए. लोगों से भी अपील है कि वे सरकारी निर्देशों का अनुपालन करें.

First Published: Mar 26, 2020 07:05:05 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो