BREAKING NEWS
  • देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) का दावा, महाराष्ट्र में बीजेपी जल्द बनाएगी स्थिर सरकार- Read More »
  • महाराष्ट्र में दोबारा चुनाव नहीं चाहते हैं, कांग्रेस के साथ बैठक के बाद लिया जाएगा उचित निर्णय: शरद पवार- Read More »

दो महीने बाद कश्मीर में नजरबंद फारूक (Farooq Abdullah) और उमर अब्दुल्ला (omar abdullah) से मिल सकेंगे NC नेता, सरकार ने दी अनुमति

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : October 06, 2019 09:24:03 AM
फारूक अब्दुल्ला और उमर अब्दुल्ला

फारूक अब्दुल्ला और उमर अब्दुल्ला (Photo Credit : फाइल फोटो )

नई दिल्ली:  

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में आर्टिकल-370 हटने से पहले और बाद में नजरबंद किए गए नेताओं से अब मिलने की छूट मिल गई है. नेशनल कॉन्फ्रेंस (National Conference) के प्रवक्ता मदन मंटू ने कहा कि जम्मू-कश्मीर सरकार ने नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल को पार्टी के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) और उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला (Omar Abdullah) से मिलने की अनुमति दे दी है. इन दोनों ही नेताओं को हिरासत में रखा गया है.

यह भी पढ़ेंः तिहाड़ में बंद पी चिदंबरम की तबीयत बिगड़ी, एम्स में चेकअप के बाद वापस जेल भेजा गया 

मदन मंटू ने आगे कहा, रविवार सुबह जम्मू के नेशनल कॉन्फ्रेंस नेताओं का प्रतिनिधिमंडल इस मुलाकात के लिए रवाना होगा. बता दें कि जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म किए जाने के समय से ही जम्मू-कश्मीर के दोनों प्रमुख नेताओं को हिरासत में रखा गया है. इन दोनों नेताओं के साथ ही जम्मू-कश्मीर के ज्यादातर प्रमुख नेताओं को एहतियातन अनुच्छेद 370 हटाए जाने के एक दिन पहले ही हिरासत में ले लिया गया था. अलगाववादी नेताओं को भी उनके घरों में नजरबंद कर दिया गया है.

नेशनल कॉन्फ्रेंस (नेकां) के जम्मू नेता देवेंद्र राणा ने कहा कि आज हमें इसकी जानकारी मिली है कि नेका का एक प्रतिनिधिमंडल को फारूक अब्दुल्ला और उमर अब्दुल्ला से मिलने की अनुमति दी गई है. नेकां नेताओं का 15 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल जो सभी पूर्व विधायक हैं कल सुबह श्रीनगर जाएंगे.

यह भी पढ़ेंः अगर हमारी सरकार आई तो पेड़ों के खूनियों से अच्छी तरह निपटेंगे, बोले उद्धव ठाकरे

फारूक अब्दुल्ला को भी गुपकर रोड स्थित उनके घर में नजरबंद किया गया है. इस दौरान उन्हें लोगों से मिलने की इजाजत नहीं है. हां मगर परिवार के लोग, अन्य लोगों से मिल सकते हैं. वहीं, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) को भी लोगों से मिलने की मनाही है. उमर अब्दुल्ला को हरि निवास में रखा गया है, जबकि महबूबा मुफ्ती को चस्मा शाही अतिथिशाला में नज़रबंद किया गया है.

First Published: Oct 05, 2019 06:33:27 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो