एनपीआर में पूर्वजों के मूल निवास के बारे में जानकारी देना जरूरी : सारंगी

IANS  |   Updated On : January 29, 2020 08:36:28 AM
एनपीआर में पूर्वजों के मूल निवास के बारे में जानकारी देना जरूरी : सारंगी

केंद्रीय मंत्री प्रताप सारंगी (Photo Credit : फाइल फोटो )

नई दिल्ली :  

भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री प्रताप सारंगी ने कहा कि राष्ट्रीय जनसंख्या पंजी (NPR) के अद्यतन के दौरान सबको अपने पूर्वजों के मूल निवास के बारे में जानकारी देना ज़रूरी है, क्योंकि इसका संबंध राष्ट्रीय सुरक्षा से है. सारंगी के बयान के कुछ घंटे पहले बीजद के वरिष्ठ सांसद पिनाकी मिश्रा ने कहा था कि मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के नेतृत्व वाली पार्टी एनपीआर में लोगों के माता-पिता के जन्म स्थान के बारे में सवाल पूछने वाले प्रावधान का विरोध करती है.

यह भी पढ़ेंः निर्भया केस : फांसी का काउंटडाउन शुरू, हाई सिक्‍योरिटी में तिहाड़ पहुंचेगा पवन जल्लाद

सारंगी ने कहा, “ मुझे लगता है कि एनपीआर अद्यतन के दौरान व्यक्तियों को पूर्वजों की जानकारी देने ज़रूरी है लोग पाकिस्तान या बांग्लादेश से आने के बाद यहां अपने मूल निवास को गुप्त रखकर लाभ उठा सकते हैं” केंद्रीय पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन और एमएसएमई राज्य मंत्री ने कहा, “ इससे भविष्य में समस्याएं पैदा हो सकती हैं यह राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा है, इसलिए इस मोर्चे पर कोई समझौता नहीं होना चाहिए ये मेरा विचार है.” 

यह भी पढ़ेंः बड़ी खबर : एशिया कप क्रिकेट से अपने आप को दूर रख सकता है भारत

लोकसभा में बीजद संसदीय दल के नेता पिनाकी मिश्रा ने पहले कहा था कि ओडिशा सरकार एनपीआर को अपडेट करने के दौरान एक खंड को लागू नहीं करेगी जो व्यक्ति के माता-पिता के जन्मस्थान से संबंधित है इस बीच, कांग्रेस नेता और कोरापुट के सांसद सप्तगिरि उल्का ने कहा, “कांग्रेस व्यक्तियों से उनके माता-पिता के जन्म स्थान का उल्लेख करने के प्रावधान के विरोध में है हम सीएए, एनआरसी के साथ-साथ एनपीआर के भी विरोध में हैं

First Published: Jan 29, 2020 08:36:28 AM

न्यूज़ फीचर

वीडियो