इंडियन मीडिया गिल्ड ने वरिष्ठ पत्रकार दीपक चौरसिया पर हुए हमले की निंदा की

News State Bureau  |   Updated On : January 25, 2020 11:18:06 PM
इंडियन मीडिया गिल्ड ने वरिष्ठ पत्रकार दीपक चौरसिया पर हुए हमले की निंदा की

पत्रकार दीपक चौरसिया पर हमला (Photo Credit : न्यूज स्टेट )

नई दिल्ली:  

इंडियन मीडिया गिल्ड ने शाहीनबाग में अराजक तत्वों द्वारा वरिष्ठ पत्रकार दीपक चौरसिया पर हमले की कड़ी निंदा की है. इंडियन मीडिया गिल्ड के नेशनल कनवीनर अनिल पांडेय ने दिल्ली पुलिस से मांग की है कि वह इस मामले में तत्काल दोषियों को गिरफ्तार कर कड़ी कार्रवाई करें. उन्होंने कहा कि पिछले कुछ सालों से पत्रकारों पर हमले तेज हुए हैं. हाल की जामिया, जेएनयू और शाहीनबाग की घनाएं इसकी तस्दीक करती हैं. इंडियन मीडिया गिल्ड देश के सभी पत्रकारों से अनुरोध करता है कि वह पत्रकारों के हमले के खिलाफ खड़े हों. एकजुट होकर पत्रकार सुरक्षा की मांग को लेकर कानून बनाने के लिए सरकार पर दबाव बनाएं. 

यह भी पढ़ें- बाबा रामदेव ने न्यूज नेशन के वरिष्ठ पत्रकार दीपक चौरसिया पर हुए हमले की निंदा की, कहा- जिसे डर लग रहा है मेरे पास आओ 

बता दें कि दीपक चौरसिया दिल्ली के शाहीनबाग में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में चल रहे विरोध प्रदर्शन और धरने को कवर करने गए थे. इस दौरान उन्हें रिपोर्टिंग करने से रोका गया और उनसे हाथापाई की गई. उनका कैमरा भी तोड़ दिया गया. वहीं इससे पहले योग गुरु बाबा रामदेव ने न्यूज नेशन के वरिष्ठ पत्रकार दीपक चौरिसया पर कल शाहीनबाग में हुए हमले की निंदा की. उन्होंने कहा कि शाहीन बाग में प्रदर्शन के नाम पर पाखंड हो रहा है. इस प्रदर्शन के नाम पर दुनिया में बदनामी हुई है. किसी को कानून हाथ में लेने का अधिकार नहीं है. वहां के लोग दिशाहीन हो गए हैं. उन्हें किस बात का डर सता रहा है. वे लोग क्यों डर रहे हैं. जबकि भारतीय मुसलमानों का नागरिकता संशोधन कानून से कोई संबंध नहीं है. फिर ये लोग क्यों प्रदर्शन कर रहे हैं.

बाबा रामदेव ने कहा कि संविधान से देश चलता है, मनमानी से नहीं. शाहीन बाग के लोग मनमानी कर रहे हैं. न्यूज नेशन के पत्रकार पर हुए हमले की सभी मीडिया वाले को इसकी निंदा करनी चाहिए. आंदोलन में हिंसा का कोई स्थान नहीं है. बाब ने कहा कि प्रदर्शन में छोटे-छोटे बच्चे को शामिल कर रहे हैं, यह बहुत ही बिल्कुल है. लोगों को ऐसा नहीं करना चाहिए. उन्होंने कहा कि सभी क्षेत्रों में मुसलमानों की भागीदारी है. मुसलमान आखिर डर क्यों रहे हैं.

यह भी पढ़ें- Republic Day 2020: गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बोले- भारत के लोग ही गणतंत्र को चलाते हैं

साथ ही उन्होंने कहा कि जिन लोगों को डर लग रहा है. वह पतंजलि योग पीठ आएं उनको सुरक्षा दिलाना मेरी जिम्मेदारी है. उन्हें खाना-पीना सबकुछ हम मुहैया कराएंगे. लोगों को डरना नहीं चाहिए. यह देश संविधान से चलता है. वहीं इससे पहले न्यूज ब्रॉडकास्ट फेडरेशन (NBF) ने हमले की निंदा की थी. एनबीएफ चेयरमैन और वरिष्ट पत्रकार अर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) ने कहा कि इस मामले में मीडिया को एकजुट होकर इसकी निंदा करनी चाहिए. अर्नब गोस्वामी ने कहा कि इस मामले में एनबीएफ की ओर से बयान जारी किया जाएगा. आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए.


बीजेपी ने भी इस हमले की कड़ी निंदा की है. वहीं दूसरी तरफ दीपक चौरसिया के साथ बदसलूकी के मामले में केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि इस मामले के लिए वह प्रेस काउंसिल को चिट्ठी लिखेंगे. उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री श्रीकांत शर्मा ने भी हमले की निंदा की है. साथ ही प्रदर्शनकारियों पर जमकर निशाना साधा है. इस मामले में दिल्ली पुलिस ने लूटपाट के सेक्शन में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है. डीसीपी साउथ ईस्ट चिन्मय बिस्वाल ने कहा कि शाहीन बाग में न्यूज नेशन की टीम पर हमले में पुलिस ने लूटपाट के सेक्शन में केस दर्ज किया है. उन्होंने कहा कि उनकी पहचान करके जल्द करवाई की जाएगी.

First Published: Jan 25, 2020 11:12:09 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो