सर्जिकल स्ट्राइक के प्रचार से नाराज हुए जनरल डीएस हुड्डा, कही ये बात

सर्जिकल स्ट्राइक में अहम भूमिका अदा करने वाले डीएस हुड्डा ने कहा कि इसका इतना प्रचार करने की जरूरत नहीं थी.

News State Bureau  |   Updated On : December 08, 2018 08:12 AM
General (Retired) D S Hooda,

General (Retired) D S Hooda,

नई दिल्ली:  

सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर जनरल (रिटायर्ड) डीएस हुड्डा ने बड़ा बयान दिया है. सर्जिकल स्ट्राइक में अहम भूमिका अदा करने वाले डीएस हुड्डा ने कहा कि इसका इतना प्रचार करने की जरूरत नहीं थी.
डीएस हुड्डा ने कहा, 'मुझे लगता है कि इसका (सर्जिकल स्ट्राइक) का बहुत ज्यादा प्रचार किया गया. हमला जरूरी था और हमलोगों ने इसे किया. अब इसका कितना राजनीतिकरण करना चाहिए था जो सही हो या फिर गलत इसका जवाब नेताओं से पूछा जाना चाहिए.

शुक्रवार को डीएस हुड्डा चंडीगढ़ लेक क्लब में शुरू हुए आर्मी मिलिट्री लिटरेचर फेस्टिवल में रोल ऑफ क्रॉस बॉर्डर ऑपरेशन एंड सर्जिकल स्ट्राइक पर बोल रहे थे. उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक करने का यह मतलब नहीं है कि आतंकवाद खत्म हो जाए. इसका मकसद पाकिस्तान को करारा जवाब देना था. सर्जिकल स्ट्राइक से यह समझना कि अब आतंक खत्म हो गया या पाकिस्तान बाज आ जाएगा, गलत है.

इसे भी पढ़ें : कोर्ट में राम मंदिर मुद्दा जीतने का सुब्रमण्यन स्वामी ने किया दावा, इसके पीछे बताई ये वजह

उन्होंने कहा कि स्ट्राइक एक ऑपरेशन था जो समय की मांग के अनुसार होता है. पाकिस्तान ने पठानकोट और उरी में आतंकी हमले किए गए थे और इसका जवाब देने के लिए सर्जिकल स्ट्राइक जरूरी थी.

First Published: Saturday, December 08, 2018 08:10 AM

RELATED TAG: General D S Hooda, Surgical Strike, Pm Narendra Modi, Pakistan,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो