अन्नाद्रमुक विधायकों पर सर्वोच्च न्यायालय में 13 नवंबर को करेगी सुनवाई

मद्रास उच्च न्यायालय में द्रमुक की ओर से दायर मुकदमे को सर्वोच्च न्यायालय में स्थानांतरित करने की मांग करते हुए अन्नाद्रमुक नेता सेमालाई की ओर से दायर याचिका पर शीर्ष अदालत 13 नवंबर को सुनवाई करेगी।

  |   Updated On : November 08, 2017 08:10 PM
सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली :  

अन्नाद्रमुक में विरोधी गुट के 11 विधायकों को अयोग्य करार दिए जाने की मांग को लेकर मद्रास उच्च न्यायालय में द्रमुक की ओर से दायर मुकदमे को सर्वोच्च न्यायालय में स्थानांतरित करने की मांग करते हुए अन्नाद्रमुक नेता सेमालाई की ओर से दायर याचिका पर शीर्ष अदालत 13 नवंबर को सुनवाई करेगी।

वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी की ओर से बुधवार को मामले को स्थानांतरित करने मांग पर दलील पेश करने के बाद न्यायमूर्ति जे. चेलमेश्वर की अध्यक्षता वाली शीर्ष अदालत की पीठ ने मामले को अगले हफ्ते सूचीबद्ध करने का निर्देश दिया।

और पढ़ें: कोहरे का कहर, यमुना एक्सप्रेस पर दर्जनों गाड़ियां आपस में टकराई

अदालत को बताया गया कि आंध्र प्रदेश से संबंधित इसी प्रकार का एक मामला सर्वोच्च न्यायालय के सामने सुनवाई के लिए लंबित है।

गौरतलब है कि द्रमुक की ओर से अन्नाद्रमुक के उन 11 विधायकों को अयोग्य ठहराने को लेकर मद्रास उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया गया था, जो प्रदेश के वर्तमान उपमुख्यमंत्री ओ. पनीरसेल्वल की अगुवाई में उस समय अन्नाद्रमुक में पार्टी के विरोधी खेमे में शामिल थे, क्योंकि इन्होंने विधानसभा में विश्वासमत के दौरान पार्टी की ओर से जारी ह्विप के खिलाफ वोट किया था।

द्रमुक की दलील है कि विधानसभा अध्यक्ष इन 11 विधायकों के खिलाफ दलबदल कानून के तहत कार्रवाई नहीं कर रहे हैं।

और पढ़ें: गुरुग्राम रायन स्कूल: CBI का दावा- छात्र ने PTM टालने के लिए की थी प्रद्युम्न की हत्या

First Published: Wednesday, November 08, 2017 03:53 PM

RELATED TAG: Aiadmk, Mla, Supreme Court, Andhra Pradesh,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो