घाटी में 'ऑपरेशन ऑल आउट' ने तोड़ी आतंकियों की कमर, 2018 में सेना ने मार गिराए 225 से ज्यादा आतंकी

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के सफाये के लिए ऑपरेशन ऑल आउट में तेज़ी देखने को मिल रही है. घाटी में सेना ने अबतक 225 से ज्यादा आतंकियों को मार गिराया है.

News State Bureau  |   Updated On : December 09, 2018 08:57 AM
ऑपरेशन ऑल आउट का असर

ऑपरेशन ऑल आउट का असर

नई दिल्ली :  

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के सफाये के लिए ऑपरेशन ऑल आउट में तेज़ी देखने को मिल रही है. घाटी में सेना ने अबतक 225 से ज्यादा आतंकियों को मार गिराया है. उत्तरी सेना कमांडर जनरल रणबीर सिंह ने यह जानकारी दी. जनरल ने कहा कि सरकार और सुरक्षाबलों द्वारा उठाये गए कदम के परिणामस्वरूप आतंकी गतिविधियों में शामिल हो रहे स्थानीय युवकों की संख्या में कमी आई है. उन्होंने आगे कहा, 'हम बड़ी संख्या में आतंकवादियों को खत्म करने में सक्षम हैं. अभी तक 225 आतंकियों को मार गिराया है. स्थानीय लोग आतंकी गतिविधियों के बारे में सूचित करते थे जो कि एक सकारात्मक संकेत है.'

जनरल ने आगे कहा, 'यह काफी सकारात्मक संकेत है, जिसके कारण आतंकी गतिविधियों में गिरावट आई है. आतंकियों को अपने मंसूबों में कामयाब नहीं होने देंगे, उन पर कार्रवाई होगी और मार गिराया जाएगा. हम जम्मू-कश्मीर में शांति और स्थिरता बनाये रखेंगे. घाटी के युवकों को कट्टरपंथ नहीं बनने देंगे.' 

उन्होंने आगे कहा कि आतंकवादी संगठनों में शामिल होने वाले स्थानीय युवाओं की संख्या में कमी आई है. कट्टरपंथीकरण में भी गिरावट आई है.

उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में स्थिति सामान्य है. लेकिन अगर कोई अप्रिय घटना होती है तो सेना शांति और स्थिरता के लिए तुरंत कार्रवाई करेगी. पाकिस्तान कश्मीर से आगे भी आतंकवाद फैलाना चाहता है. सेना आतंकवाद को रोकने के लिए ठोस कदम उठा रही है.'

इस साल 25 जून से 14 सितंबर के बीच पत्थरबाजी की घटनाओं में सुरक्षाकर्मियों सहित आठ लोगों की जान गई जबकि जवानों सहित 216 अन्य घायल हुए. अधिकारी ने कहा कि इसके बाद के 80 दिन यानी 15 सितंबर से पांच दिसंबर के बीच इन घटनाओं में केवल दो लोगों की मौत हुई जबकि 170 अन्य घायल हुए.

और पढ़ें: नवाज शरीफ के बाद इमरान खान ने कबूला, 26/11 मुंबई हमले में था पाकिस्तानी आतंकियों का हाथ

ऑपरेशन ऑल आउट

जम्मू-कश्मीर में ऑपरेशन ऑल आउट पार्ट-2 की शुरुआत हो चुकी है. जिसके तहत घाटी में अपनी गतिविधि चला रहे 300 आतंकियों को खत्म किया जाएगा. 2017 के पहले चरण के ऑपरेशन में सुरक्षा बलों ने करीब 200 आतंकियों को मार गिराया था. इधर बीएसएफ ने 60 एनएसजी स्नाइपर कमांडो तैनात किये हैं ताकि घुसपैठ कर बीएसएफ जवानों को निशाना बना रहे आतंकियों को मार गिराया जाए.

First Published: Saturday, December 08, 2018 06:57 PM

RELATED TAG: Jammu And Kashmir, Stone Pelting, Radicalisation, Pakistan, Terrorist,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो