LIVE: मराठाओं को आरक्षण देने की मांग को लेकर ठाणे में लोकल ट्रेन की आवाजाही रोकी गई, ठाणे में बस में तोड़ फोड़

इससे पहले मंगलवार को प्रदर्शन ने हिंसक रूप अख्तियार कर लिया, जिसकी चपेट में आकर एक पुलिसकर्मी और चार अन्य लोग घायल हो गए।

  |   Updated On : July 25, 2018 02:04 PM
लोकल ट्रेन की आवाजाही रोकी (एएनआई)

लोकल ट्रेन की आवाजाही रोकी (एएनआई)

नई दिल्ली:  

महाराष्ट्र में मराठाओं को आरक्षण देने की मांग को लेकर मराठा क्रांति मोर्चा का बंद आज दुसरे दिन भी जारी है। इससे पहले मंगलवार को प्रदर्शन ने हिंसक रूप अख्तियार कर लिया, जिसकी चपेट में आकर एक पुलिसकर्मी और चार अन्य लोग घायल हो गए।

इसके अलावा चार लोगों ने आत्महत्या की कोशिश की, एक दर्जन से ज्यादा वाहनों को क्षतिग्रस्त किया गया या जला दिया गया और एक सांसद और विधानसभा पार्षद के साथ धक्का-मुक्की की गई।

मराठा सकल समाज (राज्य स्तरीय निकाय) ने समुदाय के सभी सदस्यों से बंद के दौरान शांति रखने का आग्रह किया।

LIVE अपडेट्स

# केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने आंदोलन का समर्थन करते हुए कहा, 'मैं मराठा आरक्षण का समर्थन करता हूं। मैं प्रदर्शनकारियों से अपील करता हूं कि वो शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन करें। हमें संसद में एक क़ानून बनाना चाहिए जिसमें आरक्षण को 50 प्रतिशत से बढ़ाकर 75 प्रतिशत कर देना चाहिए। हम सरकार के सामने भी यह मुद्दा उठाएंगे।'  

# जगन्नाथ सोनावने नाम का एक प्रदर्शनकारी जिसनें मंगलावर को औरंगाबाद में प्रदर्शन के दौरान ज़हर खा लिया था आज सुबह अस्पताल में उसकी मौत हो गई। 

# मराठा क्रांति मोर्चा के सदस्यों ने ठाणे में लोकल ट्रेन की आवाजाही रोक दी है।

# हमलोग किसी रोड को बंद नहीं कर रहे हैं। हमलोग शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन कर रहे हैं। हमने अपने कार्यकर्ताओं से भी कहा है कि इस बंद की वजह से आम लोग, पुलिस या सरकार किसी को भी असुविधा नहीं होनी चाहिए। हमने लोगों से अपनी दुकान बंद रखने को कहा है।- मराठा क्रांति मोर्चा

# मुंबई में कई जगहों पर बेस्ट बसों पर पथराव किया गया है। कई लोगों के घायल होने की खबर है।

# ठाणे म्युसिपल ट्रांसपोर्ट बस में की गई तोड़-फोड़।

# मुंबई में बीजेपी कार्यालय के बाहर भारी सुरक्षा-व्यवस्था तैनात किया गया है। 

# मराठा क्रांति मोर्चा द्वारा बुलाए गए बंद का असर मुंबई में भी दिख रहा है। 

मुंबई के लिए मराठा क्रांति मोर्चा के समन्वयक वीरेंद्र पवार ने बताया, 'हजारों लोग पंढरपुर उत्सव से वापस लौट रहे हैं, इसलिए मुंबई और कोंकण क्षेत्र में बुधवार को बंद रखा गया है। हम सभी लोगों से शांति और अनुशासन की अपील करते हैं।'

औरंगाबाद में शुरू हुए इस आंदोलन के बाद, उत्तरी, पश्चिमी महाराष्ट्र और मराठवाड़ा के कई जिलों में लोगों ने सरकारी नौकरियों और शिक्षा में आरक्षण की मांग को लेकर जुलूस निकाला।

औरंगाबाद, उस्मानाबाद, पुणे में सड़कों को अवरुद्ध कर दिया गया। वहीं कई क्रुध मराठाओं ने औरंगाबाद में दमकल के एक वाहन और एक ट्रक, हिंगोली में एक पुलिस वैन, कोल्हापुर में कम से कम पांच सरकारी बसों पर पथराव किया और इसके अलावा अन्य वाहनों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया। दोपहर में परभणी में रेलसेवा को भी आधे घंटे के लिए बाधित कर दिया गया।

नासिक में मुंबई-आगरा राष्ट्रीय राजमार्ग को भी अवरुद्ध कर दिया गया। जबकि नांदेड़, जलगांव, परभणी, कोल्हापुर, उस्मानाबाद, अहमदनगर, जालना, नंदूरबार, यवतमाल और अकोला जिले में लोगों ने प्रदर्शन किया। नासिक और हिंगोली में टायर जलाकर सड़कों को अवरुद्ध किया गया।

हिंसा को देखते हुए, राज्य परिवहन बस सेवा को औरंगाबाद, उस्मानाबाद, नांदेड़ में स्थगित कर दिया गया, जिस वजह से हजारों लोगों को यहां मुश्किलों का सामना करना पड़ा।

अधिकारियों ने एहतियाती कदम उठाते हुए औरंगाबाद में इंटरनेट सेवा स्थगित कर दी। नांदेड़, उस्मानाबाद और कुछ अन्य जगहों पर स्कूल और कॉलेज बंद रहे।

और पढ़ें- मुंबई में हुए 26/11 हमलों के दोषी डेविड हेडली पर अमेरिका में हुआ जानलेवा हमला, आईसीयू में भर्ती

First Published: Wednesday, July 25, 2018 09:15 AM

RELATED TAG: Maratha Protest, Maharashtra Bandh, Maratha Kranti Morcha, Aurangabad, Sakal Maratha Samaj,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो