दिल्ली: 4 अस्पतालों का होगा विस्तार, 58 मोहल्ला क्लीनिक भी खुलेंगे

लोक नायक जय प्रकाश नारायण (एलजेपीएन) अस्पताल के आईसीयू में वर्तमान में लगभग 90 बेड हैं, जिसकी संख्या बढ़ाकर 500 से अधिक की जाएगी।

  |   Updated On : July 16, 2018 11:00 PM
मोहल्ला क्लिनिक (फाइल फोटो)

मोहल्ला क्लिनिक (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

दिल्ली सरकार ने चार अस्पतालों का विस्तार करने और उनमें अधिक चिकित्सा सुविधा जोड़ने की योजना बनाई है। एक अधिकारी ने सोमवार को कहा कि इसके साथ ही राष्ट्रीय राजधानी में 58 नए मोहल्ला क्लीनिक स्थापित करने का भी प्रस्ताव है।

लोक नायक जय प्रकाश नारायण (एलजेपीएन) अस्पताल के आईसीयू में वर्तमान में लगभग 90 बेड हैं, जिसकी संख्या बढ़ाकर 500 से अधिक की जाएगी। इसके अलावा लाभ पाने वाले अन्य अस्पतालों में डॉ. बाबा साहेब आंबेडकर अस्पताल, गुरु गोबिंद सिंह अस्पताल और संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल शामिल हैं, जिन्हें व्यय के लिए प्रशासनिक मंजूरी मिल चुकी है। 

एलएनजेपी के चिकित्सा निदेशक जे सी पासी ने बताया, 'एलएनजेपी अस्पताल इंटेंसिव केयर यूनिट (आईसीयू) के लिए अंतर्राष्ट्रीय मानकों का पालन करेगा। प्रत्येक 12 बेडों के लिए एक आईसीयू बेड होगा।'

उन्होंने कहा, 'दुर्घटना वार्ड को 250 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से पुनर्निर्मित किया जाएगा। चिकित्सा, बाल चिकित्सा और मातृत्व विंग के लिए 700 करोड़ रुपये की लागत से एक नया ब्लॉक बनाया जाएगा।'

प्रस्ताव पर व्यय के लिए मंजूरी मिलनी अभी बाकी है, जिससे मौजूदा 2,100 बेडों को चार हजार की संख्या में पहुंचाने में मदद मिलेगी।

पश्चिम दिल्ली के रघुबीर नगर स्थित गुरु गोबिंद सिंह अस्पताल में 172.03 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से एक नया ब्लॉक बनाया जाएगा।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, 'इससे अस्पताल की बेड क्षमता 100 से बढ़ाकर 572 करने में मदद मिलेगी।'

उत्तर-पश्चिम दिल्ली के रोहिणी स्थित डॉ. बाबा साहेब आंबेडकर अस्पताल के विस्तार और पुनर्निर्माण के लिए 194.91 करोड़ रुपये को भी प्रशासनिक मंजूरी दी गई है। विस्तार के बाद अस्पताल की बेड क्षमता 500 से बढ़कर 963 हो जाएगी।

और पढ़ें- J&K: आतंकी हमले में NC नेता के घर के बाहर तैनात पुलिसकर्मी शहीद 

उत्तर दिल्ली के मंगोलपुरी स्थित संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल में 117.78 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से ट्रॉमा सेंटर और यूटिलिटी ब्लॉक का निर्माण किया जाएगा। इससे बेड क्षमता 300 से बढ़कर 662 हो जाएगी।

अधिकारी ने कहा, 'तीनों अस्पतालों में कार्य जल्द ही शुरू हो जाएगा, क्योंकि उन्हें व्यय मंजूरी मिल चुकी है।'

उन्होंने कहा, '58 नए मोहल्ला क्लीनिकों में से 52 दिल्ली जल बोर्ड स्थलों और बाकी के छह दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड की जमीनों पर बनाए जाएंगे।'

इन क्लीनिकों के लिए व्यवहार्यता अध्ययन चल रहा है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को अधिकारियों और हितधारक विभागों को इस सप्ताह तक स्थलों का संयुक्त निरीक्षण करने का निर्देश दिया है।

उन्होंने इस सप्ताह के अंत तक नए स्थलों के प्रस्ताव को प्रस्तुत करने के लिए एक बैठक भी बुलाई है।

और पढ़ें- कुमारस्वामी की आंसू पर जेटली का तंज, कहा- ट्रेजडी युग की आ गयी याद 

First Published: Monday, July 16, 2018 10:52 PM

RELATED TAG: Mohalla Clinic, Hospital, Delhi Government, Kejriwal, Delhi Hospital,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो