मोदी सरकार की नीतियों से खुश उद्योग जगत, नोटबंदी और जीएसटी को बताया अर्थव्यवस्था के लिए बेहतर

IANS  |   Updated On : March 17, 2017 06:44:27 PM
मोदी सरकार की नीतियों से खुश उद्योग जगत (फाइल फोटो)

मोदी सरकार की नीतियों से खुश उद्योग जगत (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  मोदी सरकार की नीतियों से खुश है उद्योग जगत
  •  एचडीएफसी अध्यक्ष दीपक पारेख ने जीएसटी से देश के विकास को बल मिलने की संभावना जताई
  •  आदि गोदरेज ने की नोटबंदी की तारीफ कहा उम्मीद से बेहतर हुआ है इसका असर 

नई दिल्ली:  

मोदी सरकार की नोटबंदी और जीएसटी जैसे कदमों का उद्योग जगत ने स्वागत किया है। एक कार्यक्रम के दौरान एचडीएफसी के अध्यक्ष दीपक पारेख और आदि गोदरेज ने सरकार की नीतियों को भविष्य के लिए जीडीपी के लिहाज़ से बेहतरीन बताया है। 

एचडीएफसी के अध्यक्ष दीपक पारेख के मुताबिक गुड्स एंड सर्विस टैक्स से देश के विकास को बढ़ावा मिलेगा और जीडीपी 150-200 आधार अंकों की बढ़ोतरी होने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि, 'अगर हमारे पास अच्छी जीएसटी प्रणाली होती है तो बहुत सारे विशेषज्ञों का कहना है कि इससे जीडीपी में 150-200 अंकों की बढ़ोतरी हो सकती है।'

साल 2016 के दिसंबर में खत्म हुई तीसरी तिमाही में देश की जीडीपी विकास दर 7 फीसदी दर्ज की गई थी जबकि वित्त वर्ष 2016-17 के लिए जीडीपी दर 7.1 फीसदी होने का अनुमान लगाया गया है। 

वहीं, गोदरेज ग्रुप के आदि गोदरेज का कहना है कि एक बार जीएसटी लागू हो जाएगा तो इससे जीडीपी को काफी बढ़ावा मिलेगा। आदि गोदरेज ने कहा, 'एक बार हम जीएसटी के दायरे में आ जाएंगे तो कई सारी चीजें सुधर जाएंगी। इससे अप्रत्यक्ष कर चोरी मुश्किल हो जाएगी, जिससे ज्यादा राजस्व इकट्ठा होगा और उम्मीद है कि कर की दरें घटेंगी।'

SBI चेयरपर्सन अरुंधति भट्टाचार्य के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस

उन्होंने आगे कहा, 'जीएसटी के लागू होने से काले धन पर लगाम लगेगी। यह बेनामी धन घटाने के लिए एक बड़ा कदम होगा।' निजी निवेश के बारे में गोदरेज ने कहा कि पिछले कई सालों से इसमें गिरावट आई है और उम्मीद है कि वित्त वर्ष 2017-18 की दूसरी छमाही में यह रफ्तार पकड़ेगी।

दीपक पारेख के मुताबिक निजी निवेश में तेजी बस आने ही वाली है और चौथी तिमाही में यह रफ्तार पकड़ेगी। नोटबंदी की प्रशंसा करते हुए आदि गोदरेज ने कहा कि इसका असर उम्मीद से बेहतर हुआ है तथा उपभोक्ता मांग में तेजी से बढ़ोतरी हुई है।

कारोबार से जुड़ी और ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

First Published: Mar 17, 2017 06:15:00 PM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो