BREAKING NEWS
  • Howdy Modi: पीएम मोदी Iron Man हैं, जानिए किसने कही ये बात- Read More »
  • ह्यूस्टन में बसे कश्मीरियों की जुबान से सुने कश्मीरी पंडितों के कत्लेआम की कहानी- Read More »
  • PM Modi in Houston: पीएम मोदी का ह्यूस्टन में कश्मीरी डेलिगेशन से मिलने पर पाकिस्तान को क्यों लगी मि- Read More »

फेसबुक पर फर्जी प्रोफाइल बना लोगों को बनाता था ठगी का शिकार, पुलिस ने दबिश देकर किया गिरफ्तार

आईएएनएस  |   Updated On : September 08, 2019 08:27:44 AM
आरोपी

आरोपी

लखनऊ:  

उत्तर प्रदेश पुलिस की विशेष कार्यबल (एसटीएफ) ने ठगी करने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ किया है. यह गिरोह फेसबुक के जरिए ठगी करता था. इस सिलसिले में एसटीएफ ने दिल्ली से एक नाईजीरियाई को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार ठग गिरोह के नाईजीरिया मूल के सरगना का नाम ऑलीवर उजोमा उगोचू कोऊ है. उजोमा मूल रूप से नाईजीरिया के ओरलू रोड ओर्वेी ईमो राज्य का रहने वाला है. इन दिनों वह देवली विस्तार, थाना-टिग्री, दिल्ली की गली नंबर एक में छिप कर रह रहा था. दिल्ली से गिरफ्तारी के वक्त आरोपी के पास से लैपटॉप, नाईजीरिया का पासपोर्ट, 8 मोबाइल सिमकार्ड, एक डोंगल, एटीएम कार्ड, पेन ड्राइव और दो ड्राइविंग लाइसेंस जब्त किए गए हैं.

यह भी पढ़ेंः उत्तर प्रदेश BJP नेता सहित 3 की हत्या में 8 को उम्रकैद

एसटीएफ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, राजीव नरायण मिश्रा ने बताया कि यह गिरोह फेसबुक पर फर्जी प्रोफाइल बनाकर महिला और पुरुषों के साथ ठगी करता था. इसी साल 12 जून को पुराना हैदरगंज थाना बाजार खाला, लखनऊ निवासी रमेश चंद्र शुक्ला ने एक शिकायत दी थी. शिकायतकर्ता रमेश ने पुलिस को बताया था कि वह विदेश जाने के लिए इंटरनेट पर कुछ जानकारी जुटा रहा था. इसी बीच ब्रिटेन की जुलियाना गोम्स नामक किसी महिला ने दोस्ती कर ली. महिला ने खुद को ज्वैलरी शोरूम की मालकिन बताया. उस अजनवी महिला ने बताया कि दिल्ली हवाईअड्डे पर कस्टम वालों ने उसे पकड़ लिया है. उसने करीब तीन लाख रुपये जमा करवा लिए. महिला ने आश्वासन दिया था कि जब वह लखनऊ पहुंचेगी तब रुपये वापस कर देगी.

यह भी पढ़ेंः 'ऐसा दोस्त हो तो दुश्मन की क्या जरूर', डेबिट कार्ड चुरा कर निकाल लिए 1 लाख रुपये

एसएसपी मिश्रा ने बताया कि करीब तीन लाख रुपये वसूलने के बाद भारतीय मुद्रा को पौंड में बदलवाने के नाम पर महिला की ओर से छह लाख रुपये जब और मांगे गए, तब रमेश चंद्र शुक्ला को शक हुआ. ठगे जाने का शक होते ही उन्होंने पुलिस से शिकायत कर दी. इसी शिकायत के आधार पर एसटीएफ के अपर पुलिस अधीक्षक विशाल विक्रम सिंह की टीम ने छह सितंबर को दिल्ली में छापा मारकर इस ठग गिरोह के सरगना को दबोच लिया. 

वहीं एसटीएफ द्वारा की गई पूछताछ में आरोपी ने बताया कि 2012 में नाइजीरिया से दिल्ली आया था. दिल्ली में पहले से रह रही मेघालय की एक महिला से शादी कर ली. बाद में दोनों ने कुछ और ठगों को मिलाकर अपना गिरोह बना लिया. यह गिरोह फेसबुक पर फर्जी प्रोफाइल बनाकर लोगों को फंसाता था. एसटीएफ के मुताबिक इस गिरोह के सदस्यों के बैंकों में भी कई खाते मिले हैं.

यह वीडियो देखेंः 

First Published: Sep 08, 2019 08:27:44 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो