हरियाणा में NRC लागू करने की बात पर भड़के दुष्यन्त चौटाला, भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने यह कहा..

न्‍यूज स्‍टेट ब्‍यूरो  |   Updated On : September 16, 2019 06:31:21 AM

(Photo Credit : )

नई दिल्‍ली:  

असम के बाद अब हरियाणा में भी राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (National Register of Citizens) लागू होगा. हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने रविवार को इसकी घोषणा की तो इस पर सियासत तेज हो गई. इनेलो के दुष्यन्त चौटाला ने कहा मुख्यमंत्री प्रदेश में हिन्दू-मुस्लिम के बीच टकराव पैदा करना चाह रहे हैं वहीं कांग्रेस नेता भूपिंदर सिंह हुड्डा ने कहा कि यह सरकार की जिम्मेदारी है कि उनकी पहचान करें.

पंचकूला में  हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने कहा कि अब हरियाणा में एनआरसी (NRC) लागू करेंगे, ताकि पता चल सके कि राज्य में कितने शरणार्थी रहते हैं.

बता दें कि असम में पिछले दिनों राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर की लिस्ट जारी कर दी गई है. इस लिस्ट में 19 लाख से अधिक लोगों के नाम इस लिस्‍ट में नहीं है. दरअसल, असम में 1951 के बाद पहली बार नागरिकता की पहचान की जा रही है. एनआरसी के स्‍टेट कोआर्डिनेटर प्रतीक हजेला ने बताया था कि कुल 3,11,21,004 व्यक्तियों को NRC के लिए योग्‍य पाया गया है. 19,06,657 व्यक्ति इसमें अयोग्‍य पाए गए हैं. इन लोगों ने अपने दावे पेश नहीं किए थे. अब इन लोगों के सामने विदेशी ट्रिब्यूनल के समक्ष अपील दायर करने का विकल्‍प होगा.

यह भी पढ़ेंः छोले-चावल में परोसा मीट तो हॉस्‍टल में मचा बवाल, छात्र बोले-उनका धर्म भ्रष्ट करने की कोशिश

दिल्‍ली बीजेपी के प्रमुख मनोज तिवारी ने भी NRC को लेकर कहा था कि दिल्ली में भी नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर की जरूरत है, क्योंकि स्थिति खतरनाक होती जा रही है. अवैध अप्रवासी जो यहां बस गए हैं, वे सबसे खतरनाक हैं, हम यहां एनआरसी को भी लागू करेंगे. इसके बाद अब हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने भी एनआरसी लागू करने की बात कही है.

First Published: Sep 15, 2019 08:24:18 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो