मध्यप्रदेश सीएम शिवराज सिंह चौहान ने वाटरफॉल में फंसे लोगों को बचाने वालों को किया सम्मानित

विगत दिवस शिवपुरी जिले के मोहना के निकट सुल्तानगढ़ में फंसे नागरिकों को बचाने के कार्य में नागरिकों, राज्य आपदा अनुक्रिया बल, पुलिस और प्रशासन ने प्रशंसनीय कार्य किया

  |   Updated On : August 24, 2018 09:08 PM
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (फाइल फोटो)

मध्यप्रदेश:  

शिवपुरी जिले के सुल्तानगढ़ जलप्रपात (वाटरफॉल) में आई बाढ़ में फंसे 39 लोगों को बचाने वाले जांबाज नागरिकों और सिपाहियों को असली हीरो बताते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि इनलोगों के लिए राष्ट्रपति जीवनरक्षक पदक दिलवाने की अनुशंसा की जाएगी। आधिकारिक तौर पर दी गई जानकारी के अनुसार, 'चौहान ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री निवास पर शिवपुरी में अतिवर्षा से सुल्तानगढ़ जलप्रपात में फंसे नागरिकों को बचाने वाले जांबाज नागरिकों और सिपाहियों को सम्मानित करते हुए चार नागरिकों रामदास, भगीरथ, निजाम शाह और कल्लन बाथम को पांच-पांच लाख रुपये की सम्मान निधि भेंट की।'

यह भी देखें- लालू यादव को दोहरा झटका, अब IRCTC होटल मामले में ED ने फाइल की चार्जशीट, जानें पूरा मामला

चौहान ने राज्य आपदा अनुक्रिया बल ग्वालियर के उपनिरीक्षक प्रदीप कुमार, प्रधान आरक्षक राजेश कुमार यादव, गजेन्द्र सिह कौरव तथा जिला पुलिस बल के उपनिरीक्षक गोपाल चौबे, उपनिरीक्षक सुरेन्द्र सिह यादव, उपनिरीक्षक अमित शर्मा और आरक्षक (कांस्टेबल) मुकेश यादव को सम्मानित करते हुए कहा कि उन्हें भी पृथक से सम्मान निधि दी जाएगी। 

इस मौके पर पुलिस महानिदेशक ऋषि कुमार शुक्ला, महानिदेशक नागरिक सुरक्षा और आपदा प्रबंधन महान भारत सागर भी मौजूद थे।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा, 'अच्छे काम करने वालों की सराहना की जाना चाहिए। विगत दिवस शिवपुरी जिले के मोहना के निकट सुल्तानगढ़ में फंसे नागरिकों को बचाने के कार्य में नागरिकों, राज्य आपदा अनुक्रिया बल, पुलिस और प्रशासन ने प्रशंसनीय कार्य किया।'

उन्होंने बताया, 'घटना की जानकारी मिलने पर वे रातभर जागकर स्थिति की जानकारी लेते रहे। रक्षामंत्री, गृहमंत्री से चर्चा की। बचाव के लिए आए भारतीय वायुसेना के हेलीकाप्टर ने पांच लोगों को बचाया। किन्तु मौसम खराब हो जाने से उसे वापस जाना पड़ा। ऐसे समय में जांबाज ग्रामीण साथी देवदूत बनकर सामने आए और पानी कम होने पर वे साहसपूर्वक तैरकर लोगों को रस्से से पार ले गए। उनके साहस और सामाजिक कत्र्तव्य-बोध को देखकर ही उनको सम्मानित करने का निर्णय लिया गया।'

और पढ़ें- राहुल गांधी ने कहा- मुस्लिम ब्रदरहुड की तरह नकारात्मकता फैलाती है RSS

उन्होंने बताया कि केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिह तोमर और खेल एवं राज्य की युवा कल्याण मंत्री यशोधरा राजे सिधिया भी घटना-स्थल पहुंची थीं।

First Published: Friday, August 24, 2018 05:49 PM

RELATED TAG: Mp Chief Minister Shivraj Singh Chauhan, Madhya Pradesh, Sultangarh, Shivraj Singh Chauhan,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो