BREAKING NEWS
  • पुलवामा हमला: शहीदों की चिता नहीं पड़ी ठंडी लेकिन राजनीति शुरू, ममता ने मांगा पीएम मोदी का इस्तीफा, पढ़ें पूरी खबर- Read More »
  • LIVE: लोकसभा चुनाव के लिए बनी सहमति, बीजेपी 25 और शिवसेना 23 सीटों पर लड़ेगी चुनाव- Read More »
  • RBI ने सरकार को 28,000 करोड़ रुपये की सरप्लस राशि देने का फैसला किया- Read More »

इतिहास के सबसे बड़े जल संकट से जूझ रहा है देश: नीति आयोग

News State Bureau  |   Updated On : June 15, 2018 01:53 PM

नई दिल्ली:  

नीति आयोग की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार देश अब तक के सबसे बड़े जल संकट से जूझ रहा है। जल संसाधन मंत्री नितिन गडकरी ने आज (गुरुवार) को नीति आयोग के जल प्रबंधन इंडेक्स के आंकड़े जारी किए हैं।

इन आंकड़ों के अनुसार तकरीबन 60 करोड़ लोग पानी की भयंकर कमी से जूझ रहे हैं। वहीं, लगभग 75 फ़ीसदी घरों के अहाते में पीने का पानी मुहैया नहीं है। 84 फ़ीसदी ग्रामीण घरों में पाइप से पानी नहीं पहुंचता पाता है।

देश में करीब 70 फीसदी पानी पीने लायक नहीं है। हालांकि, इस रिपोर्ट में यह बात भी सामने आई है कि देश में पानी का सबसे बेहतर प्रबंधन गुजरात में है।

और पढ़ें: पीएम मोदी के 'उड़ान' योजना के तहत जगदलपुर और इलाहाबाद से हवाई सेवा शुरू

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि देश अभी इतिहास के सबसे बड़े जल संकट से जूझ रहा है।

उन्होंने कहा कि मैं दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री और पर्यावरण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के साथ विशेष बैठक बुलाने का फैसला किया है जिसमें दिल्‍ली को अगले दो साल में वायु और जल प्रदूषण फ्री करने के लिए एक प्‍लान तैयार किया जाएगा।

और पढ़ें: भारत ने मालदीव के पूर्व राष्‍ट्रपति-चीफ जस्टिस को सज़ा देने पर जताई निराशा

First Published: Thursday, June 14, 2018 11:49 PM

RELATED TAG: Niti Aayog, Report, Composite Water Management Index, Cwmi,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटरऔरगूगल प्लस पर फॉलो करें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो