Fact Check: चुनाव से पहले जामा मस्जिद के इमाम बुखारी से मिले मनोज तिवारी? जानें इस दावे की सच्चाई

News State Bureau  |   Updated On : January 19, 2020 07:44:34 AM
Fact Check: चुनाव से पहले जामा मस्जिद के इमाम बुखारी से मिले मनोज तिवारी? जानें इस दावे की सच्चाई

मनोज तिवारी की वायरल हो रही तस्वीर (Photo Credit : फोटो- फेसबुक )

नई दिल्ली:  

सोशल मीडिया पर दिल्ली से बीजेपी के सांसद मनोज तिवारी की एक तस्वीर वायरल हो रही है. इस तस्वीर में उनके साछ जामा मस्जिद के इमाम बुखारी भी नजर आ रहे हैं. इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि चुनावों से पहले मनोज तवारी शाही इमाम का समर्थन मांग रहे हैं. इस तस्वीर को शेयर करते हुए फेसबुक यूजर ने लिखा, ''चोर चोर मौसेरे भाई' दिन भर मुस्लिम को कोसने वाले गए हैं शाही इमाम का समर्थन मांगने, खैर समर्थन भी उस शख्स से मांग रहे हैं जिसकी मुस्लिम समाज मे कोई इज्जत ही नहीं बची है. वोट क्या घंटा दिलाएंगे #लपेटा

यह भी पढ़ें: Fact Check: क्या BJP MLA ने की CAA- NRC की आलोचना? जानें सच्चाई

क्या है इस दावे की सच्चाई?

हमने इस दावे की सच्चाई जानने के लिए 'Manoj Tiwari Met Imam' कीवर्ड नाम से सर्च किया तो हमें एक यूट्यूब की एक लिंक मिली जो मई 2017 को पोस्ट की गई थी. इस वीडियो में मनोज तिवारी और जामा मस्जिद के इमाम बुखारी को मिलते दिखाया गया था. साथ ही ये भी बताया गया था कि ये मुलाकात सियासी नहीं बल्कि दोस्ताना थी जिसमें मनोज तिवारी के घर पर हुए हमले के बाद वो उनसे मिलने गए.

यह भी पढ़ें: Fact Check: क्या कोलकाता यात्रा के दौरान पीएम मोदी ने बदल दिया विक्टोरिया मेमोरियल का नाम?

इसके अलावा 2017 में छपी कई मीडिया रिपोर्ट्स भी मिली जिसमें भी यही चीज बता गई थी. इससे ये साफ है कि सोशल मीडिया पर किया जा रहा दावा गलत है और वायरल हो रही तस्वीर तीन साल पुरानी है.

First Published: Jan 19, 2020 07:41:08 AM

न्यूज़ फीचर

वीडियो