दिल्ली में बना हुआ है बाढ़ का खतरा, यमुना का जल स्तर पहुंचा 206 मीटर पर

यमुना का जल स्तर 206 मीटर तक पहुंच गया है। यह खतरे के निशान 204.83 से 1.83 मीटर ऊपर बह रही है।

  |   Updated On : July 31, 2018 12:19 PM
यमुना का जलस्तर लाल निशान पार (फोटो- ANI)

यमुना का जलस्तर लाल निशान पार (फोटो- ANI)

नई दिल्ली:  

दिल्ली में यमुना नदी लगातार चौथे दिन मंगलवार को भी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। यमुना का जल स्तर 206 मीटर तक पहुंच गया है। यह खतरे के निशान 204.83 से 1.83 मीटर ऊपर बह रही है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बाढ़ प्रभावित लोग को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाने के निर्देश दिए हुए हैं। राहत और बचाव कार्य जारी है और अब तक 10,000 लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि यमुना के आसपास के इलाकों से लोगों को सुरक्षित जगहों पर बने शेल्टर होम्स तक पहुंचाया जा रहा है।

और पढ़ें- पीएम मोदी ने की इमरान खान से बातचीत कर दी बधाई, कहा- पाकिस्तान में लोकंतत्र की जड़ें और होगी मजबूत

उन्होंने बताया कि अब तक 1,149 टेंट में लोगों को रखा गया है। जिनमें 8,635 लोग रह रहे हैं। लोगों को खाना और स्वास्थ्य सुविधाएं भी मुहैया कराई जा रही है। 

दिल्ली में बढ़ते बाढ़ के खतरे को देखते हुए भारतीय रेल ने एहतियातन यमुना नदी पर बने रेल पुल को बंद कर दिया है। पुल को बंद करने के इस फैसले के बाद सोमवार को 27 पैसेंजर ट्रेने रद्द कर दी गई थी जबकि सात ट्रेनों को डायवर्ट कर दिया गया था।

साथ ही सड़क यात्रियों की आवाजाही पर भी रोक लगा दी गयी है। दिल्ली पुलिस ने पुराने यमुना पुल को बंद कर दिया है और सड़क यात्रियों को अपनी गाड़ियां गीता कॉलोनी और आईटीओ फ्लाईओवर से ले जाने के निर्देश दिए हैं।

ट्रैफिक रूट में बदलाव के कारण यात्रियों को जगह-जगह जाम की समस्या से गुजरना पड़ रहा है। जॉइंट कमिश्नर ऑफ पुलिस आलोक कुमार ने लोगों को अपने घरों से अधिक समय ले कर निकलने का सुझाव दिया है।

इसी बीच राजनीतिक खेमों में आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। केंद्रीय मंत्री हर्ष वरधन ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगाया है कि, 'समय रहते लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाने के लिए पर्याप्त कदम नहीं उठाये गए। यमुना का जलस्तर ऊपर जाने के बाद सरकार की आंखे खुली। ये लोगों के प्रति दिल्ली सरकार की संवेदरहीनता को दिखाता है।'

इन दिनों हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में तेज बारिश हो रही है, जिस वजह से हथिनी कुंड बैराज में प्रतिदिन ज्यादा पानी छोड़े जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को दिल्ली के निचले इलाकों में बाढ़ जैसी स्थिति से निपटने के लिए तैयारियों के मद्देनजर संबंधित अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की थी।

अधिकारियों ने केजरीवाल को आश्वस्त किया कि वे लोग अलर्ट हैं और किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं। दिल्ली सरकार ने भी किसी आपातकाल स्थिति से निपटने के लिए सेना को तैयार रहने का आग्रह किया है।

और पढ़ें- 'सत्यमेव जयते' पर लगा शिया समुदाय की धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप, केस दर्ज

 
First Published: Tuesday, July 31, 2018 08:18 AM

RELATED TAG: Yamuna Water Level, Yamuna River, Delhi- Ncr News, Old Yamuan Pul,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो