दिल्ली: डिफेंस कॉलोनी में MCD अधिकारियों ने दुकानें की सील, दुकानदारों ने किया विरोध

दिल्ली के डिफेंस कॉलोनी में कई दुकान और रेस्त्रां को सील कर दिया है। गैरकानूनी रूप से बनी इन दुकानों को सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में बनी कमिटी और एमसीडी ने सील किया है।

  |   Updated On : December 22, 2017 11:56 PM
डिफेन्स कॉलोनी में दुकानें हुई सील (ANI)

डिफेन्स कॉलोनी में दुकानें हुई सील (ANI)

नई दिल्ली:  

दिल्ली के डिफेंस कॉलोनी में कई दुकान और रेस्त्रां को सील कर दिया है गैरकानूनी रूप से बनी 51 दुकानों को सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में बनी कमिटी और एमसीडी ने सील किया है

इसके अलावा जो दुकानें ग्राउंड फ्लोर और पहली मंजिल को कमर्शियल प्रियजनों को नियम के खिलाफ जाकर इस्तेमाल कर रही थी उनपर भी सील की गाज गिरी है

वहीं दुकानदारों ने इस फैसले को लेकर नाराज़गी जाहिर की एक दुकानदार ने कहा, 'सुप्रीम कोर्ट ने अवैध निर्माण को लेकर 14 दिसंबर को फैसला किया लेकिन दुकानें यहां 1952 से है।'

और पढ़ें: CWC के बाद राहुल गांधी का हमला, कहा- बीजेपी की स्थापना झूठ की नींव पर, राफेल पर पीएम मोदी चुप क्यों

वहीं एक अन्य दुकान की कर्मचारी ने कहा, 'जब दुकान के मालिक और मैं यहां पहुंचे तब हमे पता चला कि अन्य कर्मचारियों से गाली-गलौच कर उन्हें बाहर निकाल दिया गया है। जब एक स्टाफ ने लिखित दस्तावेज के लिए पूछा तो उससे दुर्व्यवहार किया गया। हमारी दुकानों को क्रिसमस के दौरान सील कर दिया गया है और इस वक़्त कर्मचारियों को बोनस दिया जाता है।'

दुकानदारों ने नागरी निकाय द्वारा कार्रवाई का विरोध करते हुए शिकायत करते हुए कहा कि इस संबंध में कोई पूर्व नोटिस जारी नहीं किया गया था।

और पढ़ें: रुपाणी को दोबारा गुजरात की कमान, नितिन पटेल बनेंगे डिप्टी सीएम

बता दें कि कुछ दिनों पहले सुप्रीम कोर्ट ने अवैध निर्माण और कमर्शियल प्रयोजनों के लिए आवासीय परिसरों के दुरुपयोग का हवाला देते हुए था कि कुछ दशकों से दिल्ली के अपने ही नागरिकों और अधिकारियों ने इसे बर्बाद कर दिया है।

और पढ़ें: केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावेड़कर ने मोबाइल रेडिएशन से बचने के लिए निकाला अनोखा तरीका

First Published: Friday, December 22, 2017 08:04 PM

RELATED TAG: Defence Colony, Illegal Construction, Seal,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो