हर घंटे करोड़ों कमाने वाले सुंदर पिचाई बने Google & Alphabet के CEO, कभी एयर टिकट के भी पैसे नहीं थे

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : December 04, 2019 10:54:07 AM
सुंदर पिचाई (Sundar Pichai)

सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) (Photo Credit : फाइल फोटो )

नई दिल्ली:  

गूगल (Google) और सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) मौजूदा समय में एकदूसरे के पूरक हैं. अगर गूगल का कहीं भी जिक्र होता है तो सुंदर पिचाई का भी जिक्र जरूर होता है. वहीं गूगल सर्च इंजन (Google Search Engine) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है. दरअसल, सुंदर पिचाई का प्रमोशन हो गया है. नई जिम्मेदारी के तहत पिचाई अब गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट (Alphabet) के CEO बनाए गए हैं. अभी तक CEO की जिम्मेदारी सर्गे ब्रिन (Sergey Brin) के पास थी. बता दें कि गूगल के फाउंडर लैरी पेज (Larry Page) और सर्गे ब्रिन (Sergey Brin) कंपनी में सहसंस्थापक, शेयर होल्डर और Alphabet के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर में शामिल रहेंगे.

यह भी पढ़ें: बासमती चावल का एक्सपोर्ट 10 फीसदी लुढ़का, गैर-बासमती 37 फीसदी गिरा

अल्फाबेट के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर में शामिल रहेंगे सुंदर पिचाई
गूगल और अल्फाबेट दोनों के सीईओ (CEO) की जिम्मेदारी सुंदर पिचाई संभालेंगे. इसके अलावा सुंदर पिचाई अल्फाबेट के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर में भी शामिल रहेंगे. बता दें कि 2015 में गूगल ने अल्फाबेट की स्थापना की थी. अल्फाबेट में कई कंपनियां शामिल हैं.

यह भी पढ़ें: PMC Bank Scam: पीएमसी बैंक घोटाले में 3 और डायरेक्टर हुए गिरफ्तार

सुंदर पिचाई का जीवन सफर
सुंदर पिचाई का पूरा नाम सुंदरराजन पिचाई है. 12 जुलाई 1972 को पिचाई का जन्म तमिलनाडु के मदुरै में हुआ था. पिचाई ने IIT खड़गपुर से बीटेक और स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से MS किया है. MS के बाद पिचाई ने अमेरिका की पेन्सिलवेनिया यूनिवर्सिटी से MBA की डिग्री हासिल की है. पिचाई को 2015 में गूगल का मुख्य कार्यकारी अधिकारी बनाया गया था. शुरुआत में पिचाई चेन्नई के अपने 2 कमरे वाले घर में रहते थे. उनके घर में टीवी, टेलीफोन और कार नहीं था. अपने दम पर पिचाई ने IIT खड़गपुर में दाखिला लिया और अपनी मेहनत के बलबूते ही उन्होंने स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में एडमिशन के लिए स्कॉलरशिप हासिल कर ली. यहां सबसे गौर करने वाली बात है कि उनके पास एयर टिकट के भी पैसे नहीं थे, ऐसे में उनके पिता को इसके लिए लोन तक लेना पड़ गया था.

यह भी पढ़ें: Gold Rate Today: जानकार आज लगा रहे हैं MCX पर सोने-चांदी में तेजी का अनुमान, जानें टॉप ट्रेडिंग कॉल्स

ट्विटर के लिए भी आया था ऑफर
1 अप्रैल 2004 को सुंदर पिचाई ने गूगल में नौकरी के लिए इंटरव्यू दिया था. इस इंटरव्यू में उनसे Gmail के बारे में सवाल पूछा गया था. उन्होंने कहा था कि उन्हें लगा कि शायद अप्रैल फूल को लेकर मजाक किया गया है. पिचाई के जीवन में एक बार ट्विटर को ज्वाइन करने का भी ऑफर आया था, लेकिन गूगल ने उन्हें मोटा पैसा (करीब 305 करोड़ रुपये) देकर रोक लिया था. बता दें कि गूगल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) के तौर पर 2018 में पिचाई को वेतन के रूप में करीब 47 करोड़ डॉलर (करीब 3,337 करोड़ रुपये) मिले थे.

First Published: Dec 04, 2019 10:54:07 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो