BREAKING NEWS
  • Ayodhya Case : आज बंद कमरे में बैठेगी अयोध्‍या केस की सुनवाई कर रही संविधान पीठ- Read More »
  • India vs Pakistan : T-20 विश्‍व कप से पहले हो सकता है भारत पाकिस्‍तान का मुकाबला, यहां जानें आईसीसी का पूरा प्‍लान- Read More »
  • Gold Price Today 17th Oct 2019: सोने-चांदी में आज उतार-चढ़ाव की आशंका, ट्रेडिंग के लिए क्या बनाएं रणनीति, जानें यहां- Read More »

जेट एयरवेज (Jet Airways) की आसमान में दोबारा उड़ने की उम्मीद लगभग खत्म, इस कानून से तय होगा भविष्य

PTI  |   Updated On : June 19, 2019 10:17:01 AM
जेट एयरवेज (Jet Airways) - फाइल फोटो

जेट एयरवेज (Jet Airways) - फाइल फोटो (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की अगुवाई में बैंकों के ग्रुप ने जेट एयरवेज के भविष्‍य को लेकर बैठक की
  •  इस बैठक में एयरलाइन को फिर खड़ा करने की अपनी ओर से की जा रही कोशिश छोड़ दी है
  •  जेट एयरवेज के खिलाफ बैंकों ने मंगलवार को NCLT में दिवालिया याचिका दाखिल कर दी 

नई दिल्ली:  

Jet Airways Crisis: कर्ज के संकट का सामना कर रही जेट एयरवेज के अब आसमान में उड़ने की उम्मीद लगभग खत्म हो चुकी है. दरअसल भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की अगुवाई में बैंकों के ग्रुप ने जेट एयरवेज के भविष्‍य को लेकर बैठक की. इस बैठक में एयरलाइन को फिर खड़ा करने की अपनी ओर से की जा रही कोशिश छोड़ दी है.

यह भी पढ़ें: Sensex Today: शेयर बाजार में जोरदार तेजी, सेंसेक्स 130 प्वाइंट बढ़कर खुला, निफ्टी 11,750 के पार

जेट एयरवेज के खिलाफ बैंकों ने मंगलवार को NCLT में दिवालिया याचिका दाखिल कर दी है. NCLT में मामले के जाने की घोषणा के बाद मंगलवार को कंपनी के शेयर 50 फीसदी से ज्यादा टूट गए. मंगलवार को कारोबार के अंत में 40.78 फीसदी गिरावट के साथ शेयर 40.45 की प्राइस पर बंद हुआ. बैंकों की याचिका पर आज (बुधवार) से सुनवाई शुरू होगी.

यह भी पढ़ें: Rupee Open Today: डॉलर के मुकाबले रुपया 14 पैसे बढ़कर खुला, Fed के नतीजों पर रहेगी नजर

17 अप्रैल से बंद है जेट का परिचालन
25 साल पहले इस एयरलाइन को टिकटिंग एजेंट से उद्यमी बने नरेश गोयल ने शुरू किया था. नकदी संकट और एयरलाइन को पट्टे पर विमान देने वाली कंपनियों को भुगतान नहीं कर पाने की वजह से गत 17 अप्रैल से जेट एयरवेज का परिचालन बंद है.

यह भी पढ़ें: ICICI Bank के बाद इन दो बैंकों ने लिया बड़ा फैसला, ग्राहकों पर पड़ेगा असर

जेट के पास कर्मचारियों की सैलरी के बकाया हैं 3,000 करोड़ रुपये
बैंकों के अलावा एयरलाइन पर उसे माल और सेवाएं देने वालों का 10,000 करोड़ रुपये और कर्मचारियों के वेतन का 3,000 करोड़ रुपये का बकाया है. जेट एयरवेज के कर्मचारियों की संख्या 23,000 है. पिछले कुछ साल के दौरान जेट एयरवेज का कुल नुकसान 13,000 करोड़ रुपये पर पहुंच चुका है. इस तरह एयरलाइन पर कुल 36,500 करोड़ रुपये का बकाया है.

यह भी पढ़ें: सातवां वेतन आयोग (7th Pay Commission): बजट 2019 में सरकारी कर्मचारियों के लिए हो सकती है बहुत बड़ी घोषणा

गौरतलब है कि जेट एयरवेज के साथ व्यवसायिक सौदों में उधार देने वाली दो फर्मों शैमन व्हील्स और गग्गर एंटरप्राइजेज ने एयरलाइन के खिलाफ दिवाला प्रक्रिया शुरू करने के लिए 10 जून को एनसीएलटी में अपील की थी. एयरलाइन पर शैमन व्हील्स का 8.74 करोड़ रुपये और गग्गर का 53 करोड़ रुपये का बकाया है. बुधवार को सुबह के शुरुआती कारोबार में करीब 10 बजे जेट एयरवेज के शेयरों में 22 फीसदी से ज्यादा की गिरावट के साथ 31.25 रुपये के स्तर पर कारोबार होते हुए देखा गया.

First Published: Jun 19, 2019 09:59:49 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो