BREAKING NEWS
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन दी बधाई, कहा- मिलकर आतंकवाद से लड़ने की जरूरत- Read More »
  • PAK को भारत के साथ कारोबार बंद करना पड़ा भारी, अब इन चीजों के लिए चुकाने पड़ेंगे 35% ज्यादा दाम- Read More »
  • मुंबई के होटल ने 2 उबले अंडों के लिए वसूले 1,700 रुपये, जानिए क्या थी खासियत- Read More »

जेट एयरवेज (Jet Airways) की आसमान में दोबारा उड़ने की उम्मीद लगभग खत्म, इस कानून से तय होगा भविष्य

PTI  |   Updated On : June 19, 2019 10:17 AM
जेट एयरवेज (Jet Airways) - फाइल फोटो

जेट एयरवेज (Jet Airways) - फाइल फोटो

ख़ास बातें

  •  भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की अगुवाई में बैंकों के ग्रुप ने जेट एयरवेज के भविष्‍य को लेकर बैठक की
  •  इस बैठक में एयरलाइन को फिर खड़ा करने की अपनी ओर से की जा रही कोशिश छोड़ दी है
  •  जेट एयरवेज के खिलाफ बैंकों ने मंगलवार को NCLT में दिवालिया याचिका दाखिल कर दी 

नई दिल्ली:  

Jet Airways Crisis: कर्ज के संकट का सामना कर रही जेट एयरवेज के अब आसमान में उड़ने की उम्मीद लगभग खत्म हो चुकी है. दरअसल भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की अगुवाई में बैंकों के ग्रुप ने जेट एयरवेज के भविष्‍य को लेकर बैठक की. इस बैठक में एयरलाइन को फिर खड़ा करने की अपनी ओर से की जा रही कोशिश छोड़ दी है.

यह भी पढ़ें: Sensex Today: शेयर बाजार में जोरदार तेजी, सेंसेक्स 130 प्वाइंट बढ़कर खुला, निफ्टी 11,750 के पार

जेट एयरवेज के खिलाफ बैंकों ने मंगलवार को NCLT में दिवालिया याचिका दाखिल कर दी है. NCLT में मामले के जाने की घोषणा के बाद मंगलवार को कंपनी के शेयर 50 फीसदी से ज्यादा टूट गए. मंगलवार को कारोबार के अंत में 40.78 फीसदी गिरावट के साथ शेयर 40.45 की प्राइस पर बंद हुआ. बैंकों की याचिका पर आज (बुधवार) से सुनवाई शुरू होगी.

यह भी पढ़ें: Rupee Open Today: डॉलर के मुकाबले रुपया 14 पैसे बढ़कर खुला, Fed के नतीजों पर रहेगी नजर

17 अप्रैल से बंद है जेट का परिचालन
25 साल पहले इस एयरलाइन को टिकटिंग एजेंट से उद्यमी बने नरेश गोयल ने शुरू किया था. नकदी संकट और एयरलाइन को पट्टे पर विमान देने वाली कंपनियों को भुगतान नहीं कर पाने की वजह से गत 17 अप्रैल से जेट एयरवेज का परिचालन बंद है.

यह भी पढ़ें: ICICI Bank के बाद इन दो बैंकों ने लिया बड़ा फैसला, ग्राहकों पर पड़ेगा असर

जेट के पास कर्मचारियों की सैलरी के बकाया हैं 3,000 करोड़ रुपये
बैंकों के अलावा एयरलाइन पर उसे माल और सेवाएं देने वालों का 10,000 करोड़ रुपये और कर्मचारियों के वेतन का 3,000 करोड़ रुपये का बकाया है. जेट एयरवेज के कर्मचारियों की संख्या 23,000 है. पिछले कुछ साल के दौरान जेट एयरवेज का कुल नुकसान 13,000 करोड़ रुपये पर पहुंच चुका है. इस तरह एयरलाइन पर कुल 36,500 करोड़ रुपये का बकाया है.

यह भी पढ़ें: सातवां वेतन आयोग (7th Pay Commission): बजट 2019 में सरकारी कर्मचारियों के लिए हो सकती है बहुत बड़ी घोषणा

गौरतलब है कि जेट एयरवेज के साथ व्यवसायिक सौदों में उधार देने वाली दो फर्मों शैमन व्हील्स और गग्गर एंटरप्राइजेज ने एयरलाइन के खिलाफ दिवाला प्रक्रिया शुरू करने के लिए 10 जून को एनसीएलटी में अपील की थी. एयरलाइन पर शैमन व्हील्स का 8.74 करोड़ रुपये और गग्गर का 53 करोड़ रुपये का बकाया है. बुधवार को सुबह के शुरुआती कारोबार में करीब 10 बजे जेट एयरवेज के शेयरों में 22 फीसदी से ज्यादा की गिरावट के साथ 31.25 रुपये के स्तर पर कारोबार होते हुए देखा गया.

First Published: Wednesday, June 19, 2019 09:59:49 AM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Jet Airways, Jet Airways Crisis, Sbi, Nclt, Jet Airways Share Price, Jet Airways Share Outlook, Jet Airways End Game, Jet Airways News, Latest News, Business News In Hindi,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

न्यूज़ फीचर

वीडियो