संयुक्त राष्ट्र (United Nations) ने भी भारत की जीडीपी ग्रोथ (GDP Growth Rate) का अनुमान घटाया, जानें क्या है वजह

Bhasha  |   Updated On : January 17, 2020 09:55:10 AM
आर्थिक वृद्धि दर (GDP Growth Rate)

आर्थिक वृद्धि दर (GDP Growth Rate) (Photo Credit : फाइल फोटो )

न्यूयॉर्क:  

संयुक्त राष्ट्र (United Nations) ने अनुमान लगाया है कि भारत की आर्थिक वृद्धि दर (GDP Growth Rate) चालू वित्त वर्ष में 5.7 प्रतिशत रह सकती है. यह वैश्विक निकाय के पूर्व के अनुमान से कम है. संयुक्त राष्ट्र (UN) के एक अध्ययन में कहा गया है कि कुछ अन्य उभरते देशों में जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) वृद्धि दर में इस साल कुछ तेजी आ सकती है. पिछले साल वैश्विक आर्थिक वृद्धि दर सबसे कम 2.3 प्रतिशत रहने के बाद संयुक्त राष्ट्र ने यह बात कही.

यह भी पढ़ें: भारतीय कॉटन (Indian Cotton) की एक्सपोर्ट मांग में बढ़ोतरी, जानिए क्या है वजह

दुनियाभर में उठापटक से ग्रोथ में कमी
संयुक्त राष्ट्र विश्व आर्थिक स्थिति और संभावना (World Economic Situation and Prospects-WESP), 2020 के अनुसार 2020 में 2.5 प्रतिशत वृद्धि की संभावना है, लेकिन व्यापार तनाव, वित्तीय उठा-पटक या भू-राजनीतिक तनाव बढ़ने चीजें पटरी से उतर सकती हैं. भारत के बारे में रिपोर्ट में कहा गया है कि चालू वित्त वर्ष में आर्थिक वृद्धि दर 5.7 प्रतिशत रह सकती है. हालांकि डब्ल्यूईएसपी 2019 में इसके 7.6 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया गया था. वहीं अगले वित्त वर्ष में आर्थिक वृद्धि दर 6.6 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया गया जबकि पूर्व में इसके 7.4 प्रतिशत रहने की बात कही गयी थी। रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत की जीडीपी वृद्धि दर पिछले वित्त वर्ष में 6.8 प्रतिशत रही.

यह भी पढ़ें: Gold Rate Today: हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिन सोने-चांदी में क्या बनाएं रणनीति, देखें टॉप ट्रेडिंग कॉल्स

विश्व बैंक ने भी जीडीपी ग्रोथ कम रहने का जताया था अनुमान
बता दें कि इससे पहले विश्व बैंक (World Bank) ने भी 2019-20 में भारत की आर्थिक वृद्धि (GDP Growth Rate) की रफ्तार कम होकर 5 फीसदी रहने का अनुमान जताया था. विश्व बैंक ने कहा कि कि अगले साल 2020-21 में आर्थिक वृद्धि दर सुधरकर 5.8 प्रतिशत पर पहुंच सकती है. विश्व बैंक की हाल में जारी 'वैश्विक आर्थिक संभावनाएं' रिपोर्ट में यह अनुमान लगाया गया है.

यह भी पढ़ें: Petrol Rate Today 17 Jan: दूसरे दिन भी सस्ता हो गया पेट्रोल-डीजल, देखें एकदम ताजा लिस्ट

रिपोर्ट के मुताबिक भारत में गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (NBFC) के कर्ज के वितरण में नरमी जारी रहने का अनुमान है, इसके चलते भारत की वृद्धि दर 2019-20 में 5 फीसदी और 2020-21 में सुधरकर 5.8 प्रतिशत रह सकती है.

First Published: Jan 17, 2020 09:54:48 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो