BREAKING NEWS
  • IND vs SA: टीम इंडिया के लिए 'निर्दयी' रहा है बेंगलुरू का चिन्नास्वामी स्टेडियम, देखें आंकड़े- Read More »

दिल्लीवासियों के लिए खुशखबरी, दिल्ली सरकार राशन की दुकानों से बेचेगी सस्ती प्याज (Onion)

पीटीआई  |   Updated On : September 12, 2019 03:29:59 PM
प्याज (Onion) - फाइल फोटो

प्याज (Onion) - फाइल फोटो

नई दिल्ली:  

केंद्र ने दिल्ली सरकार (Delhi Government) से बफर स्टॉक से प्याज (Onion) लेकर उसे नागरिक आपूर्ति विभाग और राशन की दुकानों के जरिये 23.90 रुपये किलो के भाव पर बेचने को कहा है. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में प्याज के ऊंचे दाम को देखते हुए केंद्र ने यह कदम उठाया है. केंद्र सरकार के आंकड़ों के अनुसार प्याज का भाव दिल्ली और आस-पास के क्षेत्रों में 39-40 रुपये किलो है. शहर में कुछ खुदरा विक्रेता गुणवत्ता और स्थान विशेष के आधार पर इसे 50 रुपये किलो के भाव पर बेच रहे हैं.

यह भी पढ़ें: ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री (Automobile Industry) अपनी हालत के लिए खुद जिम्मेदार, राजीव बजाज (Rajiv Bajaj) का बड़ा बयान

मदर डेयरी सफल दुकानों के जरिये 23.90 रुपये किलो के भाव पर बेच रही है प्याज
सरकार के निर्देश पर भारतीय राष्ट्रीय कृषि सहकारी विपणन संघ (नाफेड) और भारतीय राष्ट्रीय उपभोक्ता सहकारी संघ (एनसीसीएफ) के साथ-साथ मदर डेयरी बफर स्टॉक से प्याज लेकर उसे राष्ट्रीय राजधानी में बेच रहे हैं. मदर डेयरी सफल दुकानों के जरिये प्याज 23.90 रुपये किलो के भाव पर बेच रही है. उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक हमने दिल्ली सरकार से केंद्रीय बफर स्टॉक से प्याज नागरिक आपूर्ति विभाग और राशन की दुकानों के जरिये बेचने का आग्रह किया है.

यह भी पढ़ें: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) के बयान पर मारूति सुजूकी ने कह दी ये बड़ी बात

अधिकारी ने कहा कि राज्य द्वारा अधिकतम 23.90 रुपये प्रति किलो के भाव पर प्याज बेचा जा रहा है. केंद्र से प्याज का स्टॉक 15 से 16 रुपये प्रति किलोग्राम पड़ रहा है. दिल्ली में प्रतिदिन 350 टन प्याज की जरूरत है, जबकि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र यानि NCR की जरूरत रोजाना 650 टन प्याज की है.

यह भी पढ़ें: Gold News: ज्वैलरी को छोड़ भारतीयों का भाया नए जमाने का सोना, निवेश कर कमाएं मोटा मुनाफा

केंद्र ने इस साल 56,000 टन प्याज का बफर स्टाक बनाया है. इसमें से 10,000-12,000 टन नाफेड, एनसीसीएफ और मदर डेयरी ने अब तक बेचा है. खरीफ उत्पादन कम होने के कारण प्याज की कीमतों पर दबाव बना हुआ है. उत्पादक राज्यों विशेषकर महाराष्ट्र में खेती के रकबे में 10 फीसदी की गिरावट के कारण प्याज के दामों में तेजी आई है.

First Published: Sep 12, 2019 03:29:59 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो