BREAKING NEWS
  • हरियाणा सरकार करवाना चाहती है राम रहीम-हनीप्रीत मुलाकात, जानिए क्या है वजह- Read More »

रूस ने ध्वनि की गति से 27 गुना तेज हाइपरसोनिक इंटरसेप्टर मिसाइल का किया परीक्षण

News State Bureau  |   Updated On : June 05, 2019 08:18:12 PM
रूस ने किया हाइपरसोनिक इंटरसेप्टर मिसाइल की सफल परीक्षण.

रूस ने किया हाइपरसोनिक इंटरसेप्टर मिसाइल की सफल परीक्षण. (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  कोई मिसाइल ध्वनि से पांच गुनी तेज गति हासिल करने पर कहलाती है हाइपरसोनिक.
  •  यानी 1,715 मीटर प्रति सेकंड या 6,174 किमी प्रति घंटे की रफ्तार हासिल करने के बाद.
  •  रूस की नई अत्याधुनिक हाइपरसोनिक मिसाइल 50 किमी ऊंचाई पर लक्ष्य भेदने में सक्षम.

नई दिल्ली.:  

दुश्मन देशों के हवाई हमलों या मिसाइल हमलों को बेकार करने के लिए रूस ने बुधवार को अत्याधुनिक इंटरसेप्टर मिसाइल का सफल परीक्षण किया. फिलहाल रूस ने कजाखस्तान के मिसाइल रोधी प्रशिक्षण रेंज सैरी शगन से छोड़ी गई इंटरसेप्टर मिसाइल का नाम बताने से इंकार कर दिया है. हालांकि यह माना जा रहा है कि यह बेहद खतरनाक पीआरएस-1एम हाइपर सोनिक इंटरसेप्टर मिसाइल है, जो मास्को और सामरिक लिहाज से रूस के अन्य महत्वपूर्ण ठिकानों को नाटो या अन्य दुश्मन देश की मिसाइलों से बचाएगी.

यह भी पढ़ेंः रेप पीड़िता ने सरकार की अनुमति से की आत्महत्या, जिंदगी से बेहतर लगी मौत

रूस ने नाम नहीं किया सार्वजनिक
रूसी रक्षा मंत्रालय की ओर से जारी वीडियो में इंटरसेप्टर मिसाइल की तैनाती और उसके लांच को छह विभिन्न कोणों से दिखाया गया है. वीडियो में मिसाइल को अपने पीछे आग का गोला और धूल के गुबार को छोड़ते खुले आसमान में ऊपर की ओर उठते दिखाया गया है. रूसी रक्षा मंत्रालय ने इस वीडियो फुटेज को जारी करते हुए सिर्फ यही कहा है कि रूस की नई इंटरसेप्टर मिसाइल लांच का एक और सफल परीक्षण. साथ ही कहा गया है कि इंटरसेप्टर मिसाइल ने सफलतापूर्वक अपने लक्ष्य को नष्ट किया.

यह भी पढ़ेंः Air India की फ्लाइट में नहीं करने दिया गया 20 से ज्यादा यात्रियों को सफर, जानें वजह

बीते एक साल से कर रहा है परीक्षण
गौरतलब है कि बीते एक साल से रूस अत्याधुनिक पीआरएस-1एम इंटरसेप्टर मिसाइल का परीक्षण कर रहा है. वास्तव में यह 53टी6 नाम की पुरानी इंटरसेप्टर मिसाइल का ही अत्याधुनिक संस्करण है. पुरानी मिसाइल भी गोली से कई गुना तेज रफ्तार यानी शून्य से 3 सेकंड प्रति किमी की गति प्राप्त करने में सक्षम थी. अब इंटरसेप्टर मिसाइल का यह अत्याधुनिक संस्करण 2.48 मील प्रति सेकंड की गति प्राप्त कर लेता है. ऊंचाई और रेंज के मामले में यह अपनी पूर्ववर्ती मिसाइलों से डेढ़ गुनी सक्षम है. दूसरे शब्दों में कहें तो यह मिसाइल आसमान में 50 किमी ऊपर दुश्मन की मिसाइल नष्ट करने में सक्षम है. साथ ही यह अपने साथ कई किलोटन के परमाणु अस्त्र भी ले जा सकती है.

First Published: Jun 05, 2019 08:17:31 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो