'मैं हिंदुओं से नफरत करता हूं...वह नरक जा सकते हैं, मैं लश्कर-ए-तैयबा की मदद करूंगा'

News State  |   Updated On : January 23, 2020 07:10:50 PM
'मैं हिंदुओं से नफरत करता हूं...वह नरक जा सकते हैं, मैं लश्कर-ए-तैयबा की मदद करूंगा'

सांकेतिक चित्र (Photo Credit : न्यूज स्टेट )

ख़ास बातें

  •  जीसस विल्फडरे एनकर्नेशियन ने खुद को 'जिहादिस्टसोल्जर' बताया.
  •  भारत के खिलाफ वह लश्कर-ए-तैयबा में शामिल होना चाहता था.
  •  दोष सिद्ध होने पर अब 20 साल तक की हो सकती है सजा.

नई दिल्ली:  

एक अमेरिकी व्यक्ति ने संघीय न्यायाधीश के समक्ष स्वीकार किया है कि भारत के खिलाफ लड़ाई के लिए वह आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा में शामिल होना चाहता था. अधिकारियों ने बताया कि उसने कबूल किया है कि वह पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन का समर्थन करने का दोषी है. अस्सिटेंट अटॉर्नी जनरल फॉर नेशनल सिक्योरिटी जॉन सी डेमर्स ने कहा कि मैनहट्टन स्थित संघीय अदालत में न्यायाधीश रॉनी एब्राम्स के समक्ष पेश किया गया जीसस विल्फडरे एनकर्नेशियन ने खुद को 'जिहादिस्टसोल्जर' बताया.

यह भी पढ़ेंः CAA-NRC के विरोध पर बोले प्रसून जोशी- PM मोदी सिर्फ देश के लिए सोचते हैंCAA क्या है

लश्कर के साथ जुड़ भारत पर हमला करने की कोशिश
न्यूयॉर्क के संघीय वकील जेफ्री बर्मन ने कहा, 'जीसस एनकर्नेशियन ने खुद यह स्वीकार किया है और आतंकवादी संगठन लश्कर ए-तैयबा के साथ जुड़ने और प्रशिक्षण लेने के लिए, दुनिया भर में निर्दोष नागरिकों की नृशंसता पूर्वक जिहादी हत्या करने के लिए कुख्यात होने और आतंकियों की तरफ से गोलीबारी, बम विस्फोट और लोगों का गला काटने के लिए उसने विदेश यात्रा की योजना बनाई थी.' बर्मन और डेमर्स ने पाया कि 'लश्कर ए-तैयबा पाकिस्तान स्थित एक घोषित अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादी संगठन है जो वर्ष 2008 में मुंबई के 26/11 जैसे कई बड़े आतंकी हमले करने के लिए जिम्मेदार है.'

यह भी पढ़ेंः Delhi Assembly Election: JP नड्डा ने कांग्रेस-AAP पर बोला हमला, कहा- पाकिस्तान मौज कर रहा था, क्योंकि...

पिछले साल जेएफके हवाई अड्डे से किया था गिरफ्तार
अदालत के दस्तावेजों में मौजूद एनकर्नेशियन और एक लश्कर की भर्ती करने वाले माइकल काइल सेवेल और संघीय एजेंट्स के बीच बातचीत के टेप में आरोपी ने कहा, 'तुम लोग भारत के खिलाफ हो..तुम मुस्लिमों की भूमि को लेकर भारत के विरुद्ध लड़ रहे हो और मैं हिंदुओं से नफरत करता हूं..वह नरक जा सकते हैं. मैं तुम्हारी मदद करूंगा.' यूरोप होते हुए पाकिस्तान जाकर लश्कर में शामिल होने की फिराक में 30 वर्षीय एनकर्नेशियन को पिछले साल फरवरी में न्यूयॉर्क के जेएफके हवाई अड्डे पर एफबीआई ने गिरफ्तार कर लिया था. उसकी सजा पर फैसला अप्रैल में लिया जाएगा.

First Published: Jan 23, 2020 07:10:50 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो