ब्रिटेन: शाही उपाधियां छोड़ेंगे ब्रिटेन के प्रिंस हैरी और मेगन

Bhasha  |   Updated On : January 19, 2020 10:58:40 AM
Prince Harry and Meghan

Prince Harry and Meghan (Photo Credit : (फाइल फोटो) )

लंदन:  

प्रिंस हैरी और उनकी पत्नी मेगन मर्केल महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के साथ हुए समझौते के अनुसार शाही परिवार की वरिष्ठ सदस्यता छोड़ने के बाद शाही उपाधि 'रायल हाइनेस' और सार्वजनिक कोष का इस्तेमाल नहीं करेंगे. इस समझौते के तहत प्रिंस हैरी और मेगन कनाडा में अधिक निजी समय व्यतीत कर सकेंगे. बकिंघम पैलेस ने शनिवार को यह घोषणा की. इससे पहले प्रिंस हैरी और मेगन के शाही कर्तव्यों से अलग होने की आश्चर्यजनक घोषणा के बाद महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के साथ उनकी एक सप्ताह तक निजी वार्ताएं हुई थीं. इस समझौते का अर्थ यह हुआ कि हैरी और अमेरिकी टीवी अभिनेत्री मेगन 'रॉयल हाइनेस' की उपाधियों का इस्तेमाल बंद कर देंगे.

और पढ़ें: कहां ऑस्ट्रेलिया..कहां ब्रिटेन... बच्चे को याद है राजकुमारी डायना से जुड़ी एक-एक बात, पुनर्जन्म है क्या!

हैरी की दिवंगत मां प्रिंसेस डायना ने भी 1966 में प्रिंस चार्ल्स से तलाक के बाद यह उपाधि छोड़ दी थी. 93 वर्षीय महारानी ने एक बयान में कहा, 'कई महीनों की बातचीत और हाल में हुई वार्ता के बाद मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि हमने मिलकर मेरे पोते और उसके परिवार के लिए एक रचनात्मक और सहयोगात्मक मार्ग खोज निकाला है.'

उन्होंने कहा कि उनके हर कदम पर पिछले दो साल से जिस तरह नजर रखी जा रही है, उसके परिणामस्वरूप उनके सामने आने वाली चुनौतियों को वह समझती हैं और एक अधिक स्वतंत्र जीवन जीने की उनकी इच्छा का समर्थन करती हैं. महारानी का इशारा उन घटनाओं की ओर था, जब हैरी एवं मेगन के निजी जीवन में 'ताक झांक' करने को लेकर दंपती ने अक्टूबर में कई समाचार पत्रों के खिलाफ मुकदमा किया था. हैरी और मेगन अभी तक 'ड्यूक एवं डचेज ऑफ ससेक्स' के तौर पर जाने जाते थे.

महारानी ने कहा कि उन्होंने 'खासकर मेगन पर गर्व है जो बहुत जल्द परिवार का हिस्सा बन गई'. उन्होंने दंपती को ‘‘खुशहाल एवं शांतिपूर्ण नए जीवन’’ की शुभकामनाएं दीं. बकिंघम पैलेस ने एक अन्य बयान में कहा कि ड्यूक ऑफ ससेक्स हैरी और डचेस ऑफ ससेक्स मेगन 'हिज रॉयल हाइनेस' और 'हर रॉयल हाइनेस' की उपाधि का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे.

बयान में कहा गया है, 'नई व्यवस्था के अनुसार, वे समझते हैं कि उन्हें आधिकारिक सैन्य नियुक्तियों समेत शाही कर्तव्यों से पीछे हटने की आवश्यकता है. उन्हें शाही कर्तव्यों के लिए अब सार्वजनिक निधि नहीं मिल पाएगी.' बयान में बताया गया कि दंपती विंडसर कैसल स्थित घर की मरम्मत पर खर्च हुए करदाताओं के 24 लाख पाउंड की राशि वापस करेंगे.

ये भी पढ़ें: ब्रिटेन के शाही परिवार में गूंजी किलकारी, प्रिंस हैरी की पत्नी मेगन मार्कल ने बेटे को दिया जन्म

अधिकतर ब्रितानी मीडिया कयास लगा रहा है कि यह फैसला महारानी का हैरी और मेगन के स्वच्छंद तौर तरीकों के लिए उन्हें सजा देने का एक तरीका है. दंपती अपने भावी उपक्रमों के लिए वैश्विक ट्रेडमार्क के तौर पर ‘ससेक्स रॉयल’ ब्रांड का पंजीकरण कराना चाहता है.

उल्लेखनीय है कि हैरी और मेगन ने अपनी इस योजना के ऐलान से पूरे देश को चौंका दिया था कि वे ब्रिटेन और अमेरिका के बीच अपना समय बिताने के लिए खुद को शाही भूमिका से अलग कर रहे हैं. दोनों ने महारानी से सलाह मशविरा किए बिना यह घोषणा की थी जिसे ब्रिटेन के शाही खानदान के भीतर बिखराव के रूप में देखा जा रहा है. उन्होंने कहा कि वे अपने आठ महीने के बेटे आर्ची के साथ ब्रिटेन और उत्तरी अमेरिका में समय बिताने के लिए यह कदम उठा रहे हैं .

बकिंघम पैलेस की ओर से जारी बयान के अनुसार उन्होंने कहा, 'हम शाही परिवार के वरिष्ठ सदस्यों की भूमिका से हट कर आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनना चाहते हैं और इस दौरान महारानी को हमारा पूरा सहयोग मिलता रहेगा .'

और पढ़ें: प्रिंस हैरी की सगाई की अंगूठी का डायना कनेक्शन!

35 वर्षीय हैरी ने मई 2018 में अमेरिकी अभिनेत्री मेगन से विवाह किया था और मई 2018 में उनके बेटे आर्ची का जन्म हुआ था. साल 2019 दोनों के लिए काफी मुश्किल भरा रहा था . उस समय दोनों ने एक टेलीविजन डाक्टयूमेंट्री में अपनी भूमिकाओं पर मीडिया की रिपोर्टों पर नाराजगी जाहिर की थी.

इसके साथ ही पिछले दो साल से दोनों डचेज आफ कैम्ब्रिज केट मिडलटन के जन्मदिन समारोहों में भी शामिल नहीं हुए थे . इससे इन अफवाहों को हवा मिली कि शाही परिवार में प्रिंस विलियम और प्रिंस हैरी यानि दोनों भाइयों में अनबन चल रही है. 

First Published: Jan 19, 2020 10:58:41 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो