BREAKING NEWS
  • कंगाल पाकिस्तान ने अब इस वजह से जताया चीन का एहसान- Read More »

सुपरफास्ट ट्रेनों में जल्द ही जारी किया जाएगा कम दूरी के लिए टिकट, पढ़ें पूरी detail

News State Bureau  |   Updated On : July 24, 2019 08:34:22 AM
भारतीय रेलवे कर रहा ये खास तैयारी

भारतीय रेलवे कर रहा ये खास तैयारी (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  रेलवे जल्द ही जारी करेगा सुपरफास्ट ट्रेनों में छोटी दूरी की यात्रा का टिकट.
  •  यह कदम रेलवे ने अपनी आय को बढ़ाने के उद्देश्य से उठाया है. 
  •  राजधानी को छोड़कर अन्य सुपरफास्ट ट्रेनों में होगा नियम लागू.

नई दिल्ली :  

सुपरफास्ट ट्रेनों (Superfast trains) में सफर करने वालों के लिए एक खुशखबरी है. लंबी दूरी की यात्रा के लिए कुछ मेल और सुपरफास्ट ट्रेनों में अब कम दूरी की यात्रा के लिए भी टिकट मिल सकेगा. अभी तक 500 किलोमीटर से कम दूरी के स्टेशनों के लिए कुछ खास मेल व सुपरफास्ट ट्रेनों में बीच के स्टेशनों के लिए कोई टिकट नहीं मिलता था जबकि ट्रेनें बीच के स्टेशनों पर रुकती हैं. लेकिन अब रेलवे इन बीच के स्टेशनों के लिए भी टिकट जारी करेगा. यह कदम रेलवे ने अपनी आय को बढ़ाने के उद्देश्य से उठाया है. इसके लिए रेलवे ने तैयारियां शुरु कर दी हैं.

यह भी पढ़ें: स्मार्टफोन का डेटा लीक होने से न डरें, बस इन 5 बातों का ख्याल रखकर सिक्योर रखें अपना फोन

उदाहरण के लिए यदि आप हावड़ा से अमृतसर तक जाने वाली पंजाब मेल में मुरादाबाद से ब्यास स्टेशन तक का ही टिकट मिलता है. जबकि पंजाब मेल बीच में 8 स्टेशनों पर हाल्ट देती है जिनमें सहारनपुर, अंबाला, लुधियाना, जालंधर सहित कई अन्य स्टेशन शामिल हैं. इस ट्रेन में अभी तक लुधियाना व जालंधर का भी टिकट नहीं मिलता जिससे कि यात्रियों को परेशानी होती है. इसी तरह नई दिल्ली से राजगीर जाने वाली श्रमजीवी एक्सप्रेस में नई दिल्ली से मुरादाबाद व बरेली का टिकट नहीं मिल पाता है.

इस व्यवस्था के कारण वो यात्री इन ट्रेनों में सफर नहीं कर पाते जिन्हें बीच के स्टेशनों पर या कम दूरी तक के लिए ही यात्रा करनी है. सीट खाली होने के बाद भी आरक्षण टिकट जारी नहीं मिल पाता है. इस व्यव्स्था के कारण रेलवे को आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ता है. एमएसटी धारक भी ऐसी ट्रेनों में सफर नहीं कर पाते हैं. पंजाब मेल व श्रमजीवी एक्सप्रेस जैसी कई ट्रेनें देश भर में चलती हैं.

यह भी पढ़ें: मेट्रो की तरह कुछ मिनटों में उड़ान में हो सकेंगे सवार, डिजी यात्रा का परीक्षण सफल

बता दें कि रेलवे ने देश भर के कुछ मेल एवं सुपर फास्ट ट्रेनों में यात्रा करने की दूरी तय की हुई है. कुछ ट्रेनों में तीन सौ किलो मीटर तो कुछ ट्रेनों में पांच सौ किलो मीटर न्यूतनम दूरी तय के लिए ही टिकट जारी किया जाता है.
रेल प्रशासन राजधानी एक्सप्रेस को छोड़कर अन्य ट्रेनों में प्रतिबंधित दूरी तक टिकट जारी करने के सिस्टम को हटाने की तैयारी में जुटा है. माना जा रहा है कि यह व्यवस्था अक्टूबर से लागू हो जाएगी. उसके बाद कम दूरी वाले यात्री भी ऐसी ट्रेनों में सफर पाएंगे और खाली बर्थ पर भी टिकट मिल सकेगा.

First Published: Jul 24, 2019 08:32:00 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो