मथुरा के थाने में खुद को आग लगाने का मामला: पति की इलाज के दौरान मौत, पत्नी की हालत नाजुक

डालचंद  |   Updated On : September 01, 2019 09:27:15 AM
फाइल फोटो

फाइल फोटो (Photo Credit : )

मथुरा:  

उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में एक थाने में दंपति द्वारा खुद को आग लगाने के मामले में पति योगेंद्र की इलाज के दौरान मौत हो गई है. जबकि पत्नी चंद्रवती की हालत गंभीर बनी हुई है. दोनों का दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में इलाज चल रहा था. पीड़ित जोगेन्द्र की इलाज के दौरान आज करीब सुबह 6 बजे मौत हो गई. बता दें कि 28 अगस्त को मथुरा के सुरीर पुलिस थाने में दंपति के खुद को आग लगा ली थी. दबंगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज ना होने के चलते दंपति ने यह कदम उठाया था.

यह भी पढ़ेंः केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति पर पूर्व सैनिक की पत्नी का आरोप, पैसा न लौटाना पड़े इसलिए पति को कर रहीं टॉर्चर

वहीं इस मामले में दंपति के बेटे ने नामजद 5 लोगों बबलू, सिमों, सत्यपाल, मोहन श्याम और थान सिंह के खिलाफ थाने में FIR दर्ज कराई है. नामजद पांचों आरोपियों पर माता पिता के साथ मारपीट और आग लगाने के लिए उकसाने का आरपो लगाया है. हालांकि पुलिस सतपाल और मोहन श्याम को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है.

गौरतलब है कि पड़ोसी की दबंगई के खिलाफ उनकी सुनवाई न होने परेशान दंपति ने सुरीर पुलिस थाने में जाकर खुद पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा ली थी. आरोप है कि दंपति का उनके पड़ोसियों के साथ विवाद चल रहा था. दंपति मारपीट की शिकायत लेकर कई बार थाने गई थी. लेकिन दबंगों के खिलाफ उनकी सुनवाई नहीं हो रही थी. पुलिसवाले कोई कार्रवाई नहीं कर रहे थे. इससे हताश होकर पति-पत्नी ने थाने में खुद को आग के हवाले कर दिया था.

यह भी पढ़ेंः उन्नाव रेप पीड़िता के चाचा के ड्राइवर पर हमला, 5 लोगों पर केस दर्ज

आग की वजह से दंपति 60 फीसदी तक झुलस गई थी. जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल रेफर किया गया था. डीजीपी ओपी सिंह ने मामले में संज्ञान लेते हुए एसपी सिटी मथुरा को मामले की जांच सौंपी. साथ ही थाना प्रभारी अनूप सरोज और दो उपनिरीक्षक दीपक नागर और सुनील सिंह को सस्पेंड किया जा चुका है.

यह वीडियो देखेंः 

First Published: Sep 01, 2019 09:09:39 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो