CAA के विरोध में आज नोएडा, गाजियाबाद में बंद का आह्वान, प्रशासन सतर्क

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : December 20, 2019 11:30:20 AM
CAA के विरोध में आज नोएडा, गाजियाबाद में बंद का आह्वान, प्रशासन सतर्क

UP News (Photo Credit : File Photo )

ख़ास बातें

  •  नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में नोएडा में इंटरनेट सेवाएं बंद. 
  •  ऑपरेटरों से जनपद गाजियाबाद में गुरुवार रात 10 बजे से शुक्रवार रात 10 बजे तक इंटरनेट सेवा बंद रखने को कहा गया है.
  •  पुलिस को सूचना मिली है कि राष्ट्रीय राजमार्ग पर हिंसक प्रदर्शन किए जाने का अंदेशा है.

नोएडा:  

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) पारित होने के बाद प्रदेश के विभिन्न जनपदों में असामाजिक व उपद्रवी तत्वों द्वारा कानून के विरोध में हिंसक प्रदर्शन व आगजनी की घटना के मद्देनजर जिले में इंटरनेट सेवाएं (Internet Services) 24 घंटों के लिए बंद कर दी गई हैं. सूत्रों के मुताबिक, आज नोएडा, गाजियाबाद में बंद भी बुलाया गया है. नोएडा गाजियाबाद से आने जाने वाले लोगों को सावधान रहने की हिदायत दी जा रही है कि अत्यधिक आवश्यक काम के लिए ही बाहर निकलें. अगर हो सके तो घर पर ही रहना चाहिए.

एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने कहा कि संवेदनशीलता को देखते हुए ऑपरेटरों से जनपद गाजियाबाद में गुरुवार रात 10 बजे से शुक्रवार रात 10 बजे तक इंटरनेट सेवा बंद रखने को कहा गया है. यह कदम हिंसक प्रदर्शनों और कल जुम्मे की नमाज को ध्यान में रखते हुए उठाया गया है.

वहीं नोएडा के डीएम बी. एन. सिंह ने इंटरनेट बंद की अफवाहों पर कहा है कि नोएडा और ग्रेटर नोएडा में इंटरनेट सेवाएं बंद नहीं की गई है. इसी के साथ उन्होंने ये भी चेतावनी दी है कि किसी ने भी अगर हिंसा करने की कोशिश की तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. 

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश में भड़की हिंसा को लेकर राजनाथ सिंह ने US से योगी आदित्यनाथ से की बातचीत

उन्होंने कहा कि पुलिस को सूचना मिली है कि राष्ट्रीय राजमार्ग पर हिंसक प्रदर्शन किए जाने का अंदेशा है. उपद्रवी तत्व राजकीय संपत्ति को नुकसान पहुंचा सकते हैं, जिससे आम जनजीवन व कानून व्यवस्था प्रभावित हो सकती है. उपद्रवी व असमाजिक तत्व इंटरनेट के माध्यम से अफवाह फैलाकर हिंसा कर सकते हैं. किसी भी अप्रिय घटना को जनहित में रोका जाना नितांत अपरिहार्य है.

जनपद गाजियाबाद की संवदेनशीलता के मद्देनजर जिला मजिस्ट्रेट अजय शंकर पांडेय ने शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए सभी मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनियों को नगर व देहात क्षेत्र की इंटरनेट सेवा 19 दिसंबर की रात 10 बजे से 20 दिसंबर की रात 10 बजे तक बंद कराने का आदेश पारित किया है.

यह भी पढ़ें: लखनऊ में हिंसा के दौरान एक शख्स की मौत, DGP बोले- पुलिस की फायरिंग में नहीं गई किसी की जान

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के कई हिस्सों में बृहस्पतिवार को अफरातफरी का माहौल था. विशेषकर पुराने लखनऊ के मुस्लिम बहुल इलाकों में तनाव पैदा हो गया. नागरिकता कानून का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर जमकर पथराव किया और कई वाहनों को आग के हवाले कर उन्हें क्षतिग्रस्त कर दिया. पुराने लखनऊ के मदेयगंज इलाके में भीड़ को तितर बितर करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले दागने पडे़ थे.

इसी के साथ दिल्ली के कई इलाकों में नागरिकता संशोधन के विरोध में भारी विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है. उपद्रवी भीड़ ने दिल्ली के कई इलाकों में भारी हिंसक प्रदर्शन किए है जिसके चलते कई डीटीसी बसों में आग भी लगा दी गई थी.

इनपुट IANS से...

First Published: Dec 20, 2019 07:12:37 AM

न्यूज़ फीचर

वीडियो