रिटायरमेंट के बाद इस कार से अपने घर जाएंगे DGP ओपी सिंह, जानें इसकी खासियत

News State Bureau  |   Updated On : January 30, 2020 12:48:46 PM
रिटायरमेंट के बाद इस कार से अपने घर जाएंगे DGP ओपी सिंह, जानें इसकी खासियत

इसी कार में रिटायरमेंट के बाद घर जाएंगे डीजीपी ओपी सिंह। (Photo Credit : ANI )

लखनऊ:  

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह शुक्रवार को रिटायर हो रहे हैं. 31 जनवरी उनके रिटायरमेंट की तारीख है. नए डीजीपी की तलाश भी योगी सरकार ने शुरु कर दी है. इसके साथ ही नए डीजीपी के लिए वरिष्ठता के आधार पर तलाश शुरू हो गई है. वरिष्ठता के आधार पर प्रदेश में तैनात अफसरों की सूची यूपीएससी को भेज दी गई है. इन सब तैयारियों के बीच डीजीपी ओपी सिंह को रिटायरमेंट की सलामी देने की तैयारियां जोरों पर है. कुछ रस्में हैं जिनके जरिए हर डीजीपी को रिटायरमेंट दी जाती है.

जैसे एक खास कार है. जिसमें रिटायरमेंट के वक्त हर डीजीपी अपना आखिरी सरकारी सफर करते हैं. इसका एक ऐतिहासिक महत्व है. परंपरा के मुताबिक डीजीपी राजधानी के पुलिस लाइन में आखिरी सलामी लेते हैं. सलामी के बाद रिटायर हो रहे डीजीपी एक खास कार में बैठकर घर जाते हैं. लेकिन सबसे खास बात यह है कि इस कार को पुलिस के जवान और अधिकारी रस्सों के सहारे खींचते हैं.

यह भी पढ़ें- बसंत पंचमी पर CM योगी पहुंचे प्रयागराज, संगम में लगाई डुबकी, देखें तस्वीरें

1956 की किंग्सवे डॉज कार में बैठकर डीजीपी अपने घर जाते हैं. डीजीपी ओपी सिंह की रिटायरमेंट की तैयारियों के साथ ही डीजीपी आवास के गैरेज में खड़ी कार को निकालकर साफ-सफाई शुरू कर दी गई है. कार की टेस्ट ड्राइव भी ले ली गई है.

इस कार की लंबाई 4813 मिमी है, चौड़ाई 1864 और ऊंचाई 1616 मिमी है. किंग्सवे डॉज कार को सलून भी कहा जाता है. कार छह सिलेंडर वाली है. जिसमें 3600 सीसी का पेट्रोल इंजन लगा है. एक लीटर में यह कार दो किलोमीटर का सफर तय करती है.

First Published: Jan 30, 2020 12:48:46 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो