इंटरनेट सर्च की दुनिया में भी किंग हैं विराट कोहली और एमएस धोनी, लेकिन सर्च करते वक्‍त रखें ध्‍यान

IANS  |   Updated On : January 21, 2020 08:00:48 AM
एमएस धोनी और विराट कोहली

एमएस धोनी और विराट कोहली (Photo Credit : आईएएनएस )

New Delhi:  

List of the most searched cricketers on the Internet : टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली दिसंबर 2015 से लेकर दिसंबर 2019 तक इंटरनेट पर सबसे ज्यादा सर्च किए गए क्रिकेटर रहे हैं. उनके बाद पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी, रोहित शर्मा, सचिन तेंदुलकर, हार्दिक पांड्या और युवराज सिंह का नंबर है. एसईएमरस स्टडी की ओर से किए गए शोध से निकले डाटा के मुताबिक एक महीने में औसत तौर पर कोहली को 17.6 लाख बार सर्च किया गया है. बाकी खिलाड़ियों को क्रमश: 9.59, 7.33, 4.51, 3.68 और 3.48 लाख बार सर्च किया गया है. इस सूची में एक अच्छी बात यह है कि स्टीव स्मिथ, एबी डिविलियर्स और क्रिस गेल के अलावा शीर्ष 10 में सिर्फ भारतीय खिलाड़ी हैं. 

यह भी पढ़ें ः IND vs NZ : न्‍यूजीलैंड दौरे पर चयन से पहले रणजी ट्रॉफी मैच में ईशांत शर्मा घायल

क्रिकेट भारत में काफी मशहूर है लेकिन जब सबसे ज्यादा सर्च की गई टीम की बात की आई तो इंग्लैंड यहां भारतीय टीम को मात दे गई. इंग्लैंड टीम को 3.51 लाख बार सर्च किया गया जबकि भारतीय टीम को 3.09 लाख बार सर्च किया गया. आपको बता दें कि भारत को दो बार विश्व खिताब दिलाने वाले देश के सबसे लोकप्रिय खिलाड़ियों में से एक महेंद्र सिंह धोनी मैकफे की मोस्ट डेंजरस सेलिब्रिटी सूची में भी पहले स्थान पर हैं. पिछले साल अक्‍टूबर में आए मैकफे के शोध ने लोकप्रिय सेलिब्रिटीज की पहचान की है, जो सर्वाधिक जोखिमभरे सर्च परिणाम निर्मित करते हैं, जिनसे उनके फैंस को मैलिशियस वेबसाइट्स और वायरस का खतरा रहता है. धोनी की अपार लोकप्रियता ने साइबर अपराधियों को उपभोक्ताओं को मैलिशियस वेबसाइट्स की ओर लुभाने का मौका दे दिया, जो मालवेयर इंस्टॉल कर व्यक्तिगत जानकारी व पासवर्ड चुरा सकते हैं.

यह भी पढ़ें ः ICC ODI Ranking : विराट कोहली नंबर वन, रोहित शर्मा नंबर दो, राहुल ने लगाई लंबी छलांग

मैकफे इंडिया के वाइस प्रेसिडेंट ऑफ इंजीनियरिंग व मैनेजिंग डायरेक्टर वेंकट कृष्णापुर कहते हैं कि इंटरनेट की आसान उपलब्धता और अनेक कनेक्टेड डिवाईसेस ने यूजर्स को पूरी दुनिया से कंटेंट प्राप्त करना आसान बना दिया है. जहां भारत में सब्सक्रिप्शन पर आधारित कंटेंट प्लेटफार्म बढ़ रहे हैं, वहीं नेटिजंस बड़ी स्पोट्रिंग ईवेंट्स, मूवीज, टीवी शो और अपने चहेते सुपरस्टार की इमेजेस के लिए निशुल्क व पायरेटेड कंटेंट तलाशते हैं. दुर्भाग्य से उन्हें इस तरह का कंटेंट प्रदान करने वाली मैलिशियस वेबसाइट्स द्वारा उत्पन्न जोखिम का अनुमान नहीं होता.

यह भी पढ़ें ः विराट कोहली ने एमएस धोनी को पीछे छोड़ा, जानिए कितने बना लिए रन

सर्च करते वक्‍त इसका रखें ख्‍याल

  1. आप क्लिक करने से पहले सावधान रहें. एमएस धोनी से संबंधित कंटेंट मुफ्त में प्राप्त करने के इच्छुक यूजर्स सावधान रहें और केवल भरोसेमंद स्रोत से ही कंटेंट स्ट्रीम व डाउनलोड करें. सबसे सुरक्षित यह है कि आप मालवेयर युक्त थर्ड पार्टी वेबसाइट पर विजिट करने की बजाए ऑफिशल रिलीज का इंतजार कर लें.
  2. गैरकानूनी स्ट्रीमिंग साइट्स का उपयोग न करें. जोखिमभरे ऑनलाइन व्यवहार के मामले में गैरकानूनी स्ट्रीमिंग साइट्स का उपयोग आपकी डिवाइस के लिए उतना ही खतरनाक है, जितनी खतरनाक जंगल की आग होती है. कई गैरकानूनी स्ट्रीमिंग साइट्स पर पाइरेटेड वीडियो फाइल के रूप में मालवेयर या एडवेयर छिपे होते हैं. इसलिए वीडियो केवल प्रतिष्ठित स्रोत से ही स्ट्रीम करें.
  3. अपनी ऑनलाइन दुनिया को साइबर सिक्योरिटी समाधान की सुरक्षा दें. मैकफे टोटल प्रोटेक्शन जैसे विस्तृत सिक्योरिटी समाधान की मदद से मैलिशियस जोखिमों को अलविदा कर दें. इससे आप मालवेयर, फिशिंग के हमलों एवं अन्य जोखिमों से सुरक्षित रहेंगे.
  4. वेब रेप्युटेशन टूल का इस्तेमाल करें. वेब रेप्यूटेशन टूल, जैसे निशुल्क मैकफे वेब एडवाईजर का उपयोग करें, जो आपको मैलिशियस वेबसाईट के बारे में सचेत कर देता है.
  5. पैरेंटल कंट्रोल सॉफ्टवेयर का उपयोग करें. बच्चे भी सेलिब्रिटीज के फैन होते हैं, इसलिए डिवाइस पर अपने बच्चे के लिए लिमिट्स सुनिश्चित कर दें और मैलिशियस व अनुचित वेबसाइट्स से उनको सुरक्षित रखने के लिए पैरेंटल कंट्रोल सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करें.
First Published: Jan 21, 2020 08:00:48 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो