LGBTQ यूट्यूबर्स ने भेदभाव को लेकर प्लेटफार्म पर किया मुकदमा

IANS  |   Updated On : August 16, 2019 07:28:06 AM
YouTube

YouTube (Photo Credit : )

सैन फ्रांसिस्को:  

एलजीबीटीक्यू यूट्यूबर्स (LGBTQ YouTubers) के एक समूह ने वीडियो शेयररिंग प्लेटफार्म और उसकी पैरेंट फर्म गूगल पर 'घृणा' फैलाने वाले कंटेट के खराब मॉडरेशन और एलजीबीटीक्यू क्रिएटर्स के वीडियो को गलत तरीके से प्रतिबंधित करने को लेकर मुकदमा दर्ज कराया है. सीएनईटी में बुधवार को प्रकाशित रिपोर्ट में कहा गया, 'केलिफोर्निया के उत्तरी जिले में अमेरिकी जिला न्यायालय में दाखिल इस मुकदमे के मुताबिक, साल 2016 से ही यूट्यूब और गूगल (Google) गैरकानूनी कंटेंट विनियमन, वितरण, और विमुद्रीकरण में लिप्त रही है, जिससे एजीबीटीक्यू प्लस वादियों और संपूर्ण एलजीबीटीक्यू प्लस समुदाय को कलंकित, प्रतिबंधित, ब्लॉक करना, निंदा करना और वित्तीय रूप से हानि पहुंचाया जा रहा है.'

ये भी पढ़ें: LGBTQ community पर बेस्ड होगी शबाना आजमी की फिल्म 'शीर कोरमा'

रिपोर्ट में कहा गया कि एक यूट्यूबर ने साइट पर पोस्ट किए गए एक वीडियो में इस मुकदमे की जानकारी देते हुए कहा, 'उन्होंने हमारे गौरव की छीन लिया, उन्होंने हमें विज्ञापन खरीदने की अनुमति नहीं दी, उन्होंने हमें बाधित किया. उन्होंने हमें मुद्रीकरण (कमाई) करने से रोका, और वे हमारे समर्थन में खड़े नहीं हुए.' इन क्रिएटर्स में ब्रिया काम और क्रिसी चेम्बर्स ऑफ ब्रियाएंडक्रिसी शामिल है.

और पढ़ें: समलैंगिकों के लिए टिंडर ने लॉन्च किया नया सेफ्टी फीचर

क्रिसी चेम्बर्स ऑफ ब्रियाएंडक्रिसी का एलजीबीटीक्यू दर्शकों के लिए एक चैनल है, जिनका दावा है कि यूट्यूब ने गलत तरीके से उनके वीडियो को प्रतिबंधित कर दिया, इसलिए उसे देखने वालों की संख्या सीमित हो गई और वे इससे जितने पैसे कमा सकते थे, नहीं कमा पाए.

First Published: Aug 16, 2019 07:28:06 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो