BREAKING NEWS
  • हेलीकॉप्टर घोटाला: ईडी ने अदालत से राजीव सक्सेना की जमानत रद्द करने का किया अनुरोध- Read More »
  • चंद्रयान-2 समय पर लांच नहीं होने के बावजूद भी वैज्ञानिकों ने इसरो की तारीफ की, जानिए क्या है वजह- Read More »
  • साेते समय इन 16 बातों का अगर नहीं रखते ध्‍यान तो आपको बर्बाद होने से कोई नहीं बचा सकता - Read More »

सरकार ने आतंकवाद की तोड़ी कमर, घुसपैठ में 43 फीसदी से ज्यादा की कमी

News State Bureau  |   Updated On : July 09, 2019 05:02 PM
narendra-modi-government-claim-after-surgical-strike

narendra-modi-government-claim-after-surgical-strike

ख़ास बातें

  •  सरकार ने किया बड़ा दावा
  •  घुसपैठ में आई भारी कमी
  •  सर्जिकल स्ट्राइक के बाद आया ये बदलाव

नई दिल्ली:  

सीमापार से आने वाली घुसपैठ में 43 फीसदी से ज्यादा की कमी आई है. सरकार ने संसद में एक सवाल के जवाब में दावा किया है. इसके साथ ही आतंक से संबंधित घटनाओं में 28 फीसदी और स्थानीय आतंकियों की भर्ती में 40 फीसदी की कमी आई है. इसके साथ ही पिछले साल के मुकाबले इस साल अब तक 22 फीसदी ज्यादा आतंकियों को ढेर किया जा चुका है. सर्जिकल स्ट्राईक के बाद सीमा पार से होने वाली घुसपैठ में क्या कोई कमी हुई है और हुई है तो कितनी इस सवाल के जवाब में सरकार ने बताया कि आतंकवाद के खिलाफ कड़े कदमों के उठाने के चलते पाकिस्तान से होने वाली घुसपैठ में भारी कमी आई है.

यह भी पढ़ें - बुरहान की बरसी पर सुरक्षा व्यवस्था को बनाए रखने के लिए घाटी में Internet सेवा ठप

पाकिस्तान से आने वाले आतंकियों में ये कमी सीमा पर तकनीकि तौर पर उन्नत उपकरणों और सुरक्षा बलों के चौकन्ने रहने से आई है. सरकार के मुताबिक अंतराष्ट्रीय सीमा और लाईन ऑफ कंट्रोल पर बहुस्तरीय सुरक्षा इंतजाम, फैसिंग, सटीकइंटेलीजेंस, त्वरित ऑपरेशन और सुरक्षा बलों को अत्याधुनिक उपकरणों से लैस करने से ये कमी आई है. सरकार के जवाब के मुताबिक पिछले साल की पहले छह महीनें के मुकाबले इस साल की पहली छमाही में घुसपैठ की घटनाओं में लगभग 43 फीसदी की कमी दर्ज की गई है.

यह भी पढ़ें - Amarnath Yatra 2019: BSNL के इस खास प्लान के साथ अमरनाथ की यात्रा बनेगी आसान, मिलेंगे ये Offers

सरकार ने बॉर्डर पर चल रही अत्याधुनिक फैंसिग की प्रगति की जानकारी भी सदन में रखी. इसी तरह के एक दूसरे सवाल के जवाब में सरकार ने जानकारी दी. जीरो टॉलरेंस की नीति के चलते घाटी में आतंकी घटनाओं में 28 फीसदी की कमी आई है. इसके साथ ही सुरक्षा बलों के ऑपरेशन के चलते आतंकियों को ढेर करने में भारी कामयाबी मिल रही है. जवाब में दिए गए आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल के मुकाबले इस साल के पहले छह महीने में सुरक्षा बल 22 फीसदी ज्यादा आतंकियों को ढेर करने में कामयाब हुए है. इसके साथ ही लंबे समय से स्थानीय आतंकियों को भर्ती करने में कामयाब रहे. आतंकी संगठनों को अब उसमें भी मुंह की खानी पड़ रही है. आंकडों के मुताबिक पिछले साल के पहले छह महीनों के मुकाबले इस साल के छह महीने में आतंकियों कीभर्ती में चालीस फीसदी की भारी कमी आई है.

और पढ़ें: IND vs NZ Live Cricket Streaming, भारत बनाम न्यूजीलैंड World Cup 1st Semi Final Cricket Score Live Update

First Published: Tuesday, July 09, 2019 03:51 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Jammu Kashmir, Terrorist, Indo-pakistan Border, Narendra Modi, Rajnath Singh,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

अन्य ख़बरें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो